श्री कसबा गणपति मंदिर - Shri Kasba Ganpati Mandir

भारत के एक छोटे से गाँव पुनावाड़ी का पुणे महानगर के रूप में विकसित होने का इतिहास अत्यधिक प्रभावशाली है। भिन्न-भिन्न समय काल में बनाए गए सुंदर मंदिरों में से अधिकांश को विभिन्न युद्धों में नष्ट कर दिया गया था।

सन् 1630 में रानी जीजाबाई भोंसले अपने 12 वर्ष के पुत्र शिवाजी को साथ लेकर पुणे पहुँची। युवा शिवाजी ने मावलों को मुगलों से मुक्त करने की कसम खाई थी। उसी समय, विनायक ठाकर के घर के पास भगवान गणेश की एक मूर्ति मिली, जो कि रानी जीजाबाई भोंसले के निवास स्थान के करीब ही रहते थे। जीजाबाई ने इसे एक शुभ क्षण के रूप में माना और तभी एक मंदिर का निर्माण प्रारंभ किया, जिसे आज प्रसिद्ध श्री कसबा गणपति मंदिर के रूप में जाना जाता है। युवा शिवाजी ने इस शुभ क्षण के बाद स्वराज्य साम्राज्य का निर्माण शुरू किया। शिवाजी महाराज किसी भी युद्ध में जाने से पहले यहाँ श्री गणेश का आशीर्वाद अवश्य लेते थे।

उसी समय से पुणे को भगवान गणेश के शहर के रूप में भी जाना जाता है। इस मंदिर में श्री गणेश को ग्राम देवता के रूप में पूजा जाता है। पुणे शहर में रहने अथवा आने वाले हर व्यक्ति को मंदिर के दर्शन जरूर करना चाहिए, क्योंकि श्री गणपति ग्राम देवता होने के कारण यहाँ रहने वालों के रक्षक देव भी हैं।

कसबा गणपति, पुणे के स्थानीय देवता होने के कारण, गणेश उत्सव के दौरान यहाँ के उत्सव मंडल को पहले भगवान गणेश की मूर्ति को नदी में विसर्जित करने का सौभाग्य प्राप्त है।

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

  • महाराष्ट्र में सबसे प्राचीन मंदिरों में से एक।
  • 1639 में शिवाजी महाराज और जीजाबाई द्वारा स्थापित।
  • पुणे शहर के मध्य में स्थित, पुणे के स्थानीय देवता।
  • यहाँ का प्रसिद्ध त्यौहार गणेश उत्सव है।

समय - Timings

दर्शन समय
6:00 AM - 12:00 PM, 4:00 PM - 10:00 PM
5:45 AM: मंगला आरती
12:00 PM: भोग आरती
9:00 PM: संध्या आरती
त्यौहार
Ganeshotsav, Magh Maas, Holi, Diwali, Makar Sankranti, Sankati chturthi, Angarki Sankashti Chaturthi | यह भी जानें: शारदीय नवरात्रि

फोटो प्रदर्शनी - Photo Gallery

Photo in Full View
श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

श्री कसबा गणपति मंदिर

जानकारियां - Information

मंत्र
॥ श्री जयती गजानन प्रसन्न ॥
धाम
Maa GuriShri GaneshShri Vitthal Rukmini JiBhagwan DattatreyaShivling with Nandi
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Water Coolar, Shoe Store, Washrooms, Parking, CCTV Security, Sitting Benches, Music System, Prasad Shop
संस्थापक
रानी जीजाबाई भोंसले
स्थापना
1630
देख-रेख संस्था
श्री कसबा गणपति सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल
समर्पित
श्री गणेश
फोटोग्राफी
🚫 नहीं (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

क्रमवद्ध - Timeline

1630

छत्रपति शिवाजी की माता जीजाबाई भोसले द्वारा स्थापित मंदिर।

1893

श्री कसबा गणपति सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल की स्थापना।

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
159, Kasba Peth Rd, Durvankur Society, Phadke Haud, Kasba Peth Pune Maharashtra
सड़क/मार्ग 🚗
Ganesh Road >> Ramganesh Gadkari Path
रेलवे 🚉
Pune Junction
हवा मार्ग ✈
Pune International Airport
नदी ⛵
Mula Mutha
वेबसाइट 📡
निर्देशांक 🌐
18.519035°N, 73.857211°E
श्री कसबा गणपति मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/kasba-ganapati-mandir-pune

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment


अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्री सूर्य देव - ऊँ जय सूर्य भगवान

ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा।

ॐ जय जगदीश हरे आरती

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

श्री सिद्धिविनायक आरती: जय देव जय देव

श्री सिद्धिविनायक मंदिर मुंबई, श्री गणेश आरती | सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची | जय देव जय देव..

🔝