भक्ति भारत को फेसबुक पर फॉलो करें!

श्री राधा कृष्ण मंदिर


updated: Feb 12, 2019 00:24 AM About | Timing | Highlights | Photo Gallery


श्री राधा कृष्ण मंदिर () - Sainavali or Sehnaoli Sirsaganj Uttar Pradesh

सैनावली गाँव का सबसे प्रसिद्ध श्री राधा कृष्ण मंदिर, जिसके साथ स्थित है मंदिर का पवित्र सरोवर। इस पवित्र जल सरोवर को झबेरा के नाम से जाना जाता है। मंदिर के चारों ओर स्थित हरियाली और प्राकृतिक द्रश्य इसकी खूबसूरती में और भी चार चाँद लगा देते हैं।

उड़ीसा राज्य ही की तरह, फिरोजाबाद जिले के सभी पुराने मंदिर किसी ना किसी नदी या सरोवर के किनारे बनाने गये हैं। जिससे मंदिर के लिए पवित्र जल आपूर्ति हो सके तथा जल के उपयुक्त भंडारण से प्राकृतिक संतुलन भी बना रहे।

मुख्य आकर्षण

  • मंदिर के साथ पवित्र तालाब संलग्न।
  • सुंदर प्राकृतिक हरियाली के दृश्य।

समय सारिणी

दर्शन समय
6:00 AM - 1:00 PM, 4:00 PM - 8:00 PM
त्यौहार
Janmashtami, Shivaratri, Savan, Navratri, Ram Navami, Makar Sankranti, Hanuman Jayanti|Hanuman Janmotsav, Diwali, Holi, Valmiki Jayanti|Sharad Purnima | Read Also: महा शिवरात्रि 2019

फोटो प्रदर्शनी

Photo in Full View
BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

Available in English - Shri Radha Krishna Mandir
The most famous Shri Radha Krishna Mandir in the village of Sainavali, with the Holy pond. This holy water pond is known as Jhabera.

जानकारियां

मंत्र
बंसी वारे की जय!
धाम
Maa KaliShri Hanuman JiShri Shiv FamilyShivling with GanHawan ShalaBanyan TreeTulsi Maa
बुनियादी सेवाएं
Prasad, Drinking Water, Hand Pump, Solar Panel, Sitting Benches, Holy Pond
संस्थापक
श्री रोहन सिंह
समर्पित
श्री राधा कृष्ण
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)

कैसे पहुचें

कैसे पहुचें
सड़क/मार्ग: NH 2 >> Paigu Road
रेलवे: Shikohabad(J), Aron
पता
Sainavali or Sehnaoli Sirsaganj Uttar Pradesh
निर्देशांक
27.102861°N, 78.719161°E
श्री राधा कृष्ण मंदिर गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/shri-radha-krishna-mandir-sainavali

अगला मंदिर दर्शन

अपने विचार यहाँ लिखें

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

आरती: श्री शिव, शंकर, भोलेनाथ

जय शिव ओंकारा, ॐ जय शिव ओंकारा। ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा॥

आरती सरस्वती जी: ओइम् जय वीणे वाली

ओइम् जय वीणे वाली, मैया जय वीणे वाली, ऋद्धि-सिद्धि की रहती, हाथ तेरे ताली।...

आरती: माँ सरस्वती जी

जय सरस्वती माता, मैया जय सरस्वती माता। सदगुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता॥

close this ads
^
top