close this ads

तुलसी महारानी नमो-नमो!


तुलसी महारानी नमो-नमो, हरि की पटरानी नमो-नमो।

धन तुलसी पूरण तप कीनो, शालिग्राम बनी पटरानी।
जाके पत्र मंजरी कोमल, श्रीपति कमल चरण लपटानी॥

धूप-दीप-नवैद्य आरती, पुष्पन की वर्षा बरसानी।
छप्पन भोग छत्तीसों व्यंजन, बिन तुलसी हरि एक ना मानी॥

सभी सखी मैया तेरो यश गावें, भक्तिदान दीजै महारानी।
नमो-नमो तुलसी महारानी, तुलसी महारानी नमो-नमो॥

Read Also:
» तुलसी विवाह - Tulsi Vivah
» जय जय तुलसी माता!
» माता श्री तुलसी चालीसा

Hindi Version in English

Tulsi Maharani Namo-Namo, Hari ki Patrani Namo-Namo।
Dhan Tulsi Puran Tap Kino, Shaligram Bani Patrani।
Jake Patra Manjari Komal, Shripati Kamal Charan Laptani॥

Dhoop-Deep-Navaidya Aarti, Pusphpan ki Varsha Barsani।
Chappan Bhog Chatisau Vyanjan, Bin Tulsi Hari Ek Na Mani॥

Sabhi Sakhi Maiya Tero Yash Gave, Bhaktidan Deejay Maharani।
Namo-Namo Tulsi Maharani, Tulsi Maharani Namo-Namo॥

- BhaktiBharat


If you love this article please like, share or comment!

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी।

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी, तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥

आरती: ॐ जय जगदीश हरे

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

श्री सत्यनारायण जी आरती

जय लक्ष्मी रमणा, स्वामी जय लक्ष्मी रमणा। सत्यनारायण स्वामी, जन पातक हरणा॥

आरती: श्री बृहस्पति देव

जय वृहस्पति देवा, ऊँ जय वृहस्पति देवा। छिन छिन भोग लगा‌ऊँ...

आरती माँ लक्ष्मीजी

ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। तुमको निसदिन सेवत, हर विष्णु विधाता॥

श्री सूर्य देव - जय जय रविदेव।

जय जय जय रविदेव जय जय जय रविदेव। रजनीपति मदहारी शतलद जीवन दाता॥

श्री सूर्य देव - ऊँ जय कश्यप नन्दन।

ऊँ जय कश्यप नन्दन, प्रभु जय अदिति नन्दन। त्रिभुवन तिमिर निकंदन, भक्त हृदय चन्दन॥

श्री सूर्य देव - ऊँ जय सूर्य भगवान।

ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा।

भगवान श्री चित्रगुप्त जी की आरती!

ॐ जय चित्रगुप्त हरे, स्वामी जय चित्रगुप्त हरे। भक्तजनों के इच्छित, फल को पूर्ण करे॥

आरती: श्री हनुमान जी

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं, श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे॥

Latest Mandir

^
top