close this ads

जय हो शिव भोला भंडारी!


जय हो शिव भोला भंडारी, लीला अपरंपार तुम्हारी,
लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,
तेरे भक्त पे संकट भारी, रक्षा कीजिये हे त्रिपुरारी,
लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,
॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥

मेरी विनती सुनो हे अवनाशी, किरपा करदो प्रभु घट-घट वासी,
अब तो लेलो खबर हमारी, तुम हो भक्तो के हितकारी,
लेके नाम तेरा नाम तेरे धाम आ गए,
॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥

मेरी नैया फसी प्रभु मझधार में, कोई तुमसा दयालु न संसार में,
माना पतित बड़ा भारी, भोले आप हो मंगलकारी,
लेके नाम तेरा नाम तेरे धाम आ गए,
॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥

आप के चरणों की धूल जो पाएंगे, सारे बदल वो दुःख के झट जायेगे,
तूने उसकी बिपदा टाली, आया शरण जो नाथ तुम्हारी,
लेके नाम तेरा नाम तेरे धाम आ गए,

जय हो शिव भोला भंडारी, लीला अपरंपार तुम्हारी,
लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,
तेरे भक्त पे संकट भारी, रक्षा कीजिये हे त्रिपुरारी,
लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,

Read Also:
» कब, कैसे, कहाँ मनाएँ शिवरात्रि? | सावन के सोमवार | द्वादश(12) शिव ज्योतिर्लिंग!
» दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध शिव मंदिर - Famous Shiv Mandir of Delhi NCR
» आरती: श्री शिव, शंकर, भोलेनाथ | चालीसा: श्री शिव जी | भजन: शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्धार हुआ
» दिल्ली और आस-पास के मंदिरों मे शिवरात्रि की धूम-धाम

BhajanShiv BhajanBholenath BhajanMahadev BhajanShivaratri BhajanLakkha Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

पहिले पहिल, छठी मईया व्रत तोहार।

पहिले पहिल हम कईनी, छठी मईया व्रत तोहार। करिहा क्षमा छठी मईया, भूल-चूक गलती हमार...

कन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगे...

कन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगे, लताओं में बृज की गुजारा करेंगे। कहीं तो मिलेंगे वो बांके बिहारी...

कबहुँ ना छूटी छठि मइया...

कबहुँ ना छूटी छठि मइया, हमनी से बरत तोहार, हमनी से बरत तोहार...

हो दीनानाथ - छठ पूजा गीत

सोना सट कुनिया, हो दीनानाथ हे घूमइछा संसार, आन दिन उगइ छा हो दीनानाथ आहे भोर भिनसार...

मारबो रे सुगवा - छठ पूजा गीत

ऊ जे केरवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए। मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए।...

श्री गोवर्धन महाराज आरती!

श्री गोवर्धन महाराज, ओ महाराज, तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ...

बाल लीला: राधिका गोरी से बिरज की छोरी से...

राधिका गोरी से बिरज की छोरी से, मैया करादे मेरो ब्याह...

मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है।

मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है। करते हो तुम कन्हिया मेरा नाम हो रहा है॥

मीरा दीवानी हो गयी रे..

मीरा दीवानी हो गयी रे, मीरा दीवानी हो गयी। मीरा मस्तानी हो गयी रे..

प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना।

प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना। बैकुंठ तो यही है, हृदय में रहा करना॥

^
top