भजन: श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी... (Shri Man Narayan Narayan Hari Hari)


श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी
श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी -x2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी
तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी -x2

भजमन नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

लक्ष्मी नारायण नारायण हरी हरी – 2
बोलो नारायण नारायण हरी हरी – 2

भजो नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

सत्य नारायण नारायण हरी हरी – 2
जपो नारायण नारायण हरी हरी – 2
भजो नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

बोलो नारायण नारायण हरी हरी – 2
भजमन नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2
तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

यह भी जानें

BhajanShri Vishnu BhajanShri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navami BhajanVijay Dashami BhajanSunderkand BhajanRamcharitmanas Katha BhajanAkhand Ramayana BhajanVeerwaar BhajanBrihaspativar BhajanBrihaspati BhajanThursday BhajanGuruwar Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भगवन लौट अयोध्या आए..

भगवन चौदह बरस वन वास, भगवन लौट अयोध्या आए । वो बागन-बागन आए, और सूखे बाग हरियाए..

भजन: आ माँ आ तुझे दिल ने पुकारा।

नवरात्रि भजन, आ माँ आ तुझे दिल ने पुकारा। दिल ने पुकारा तू है मेरा सहारा माँ।।

भजन: दिया थाली बिच जलता है..

दिया थाली बिच जलता है, ऊपर माँ का भवन बना, नीचे गंगा जल बहता है ॥

भजन: श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी...

श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी, तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी...

मेरी अखियों के सामने ही रहना, माँ जगदम्बे।

मेरी अखियों के सामने ही रहना, माँ शेरों वाली जगदम्बे।

मैं बालक तू माता शेरां वालिए!

मैं बालक तू माता शेरां वालिए, है अटूट यह नाता शेरां वालिए...

भजन: मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे!

मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे, इतना दिया मेरी माता।

बेटा जो बुलाए माँ को आना चाहिए॥

मैया जी के चरणों मे ठिकाना चाहिए। बेटा जो बुलाए माँ को आना चाहिए॥

आजा माँ तेनु अखियां उडीकदीयां।

आजा माँ तेनु अखियां उडीकदीयां। अखियां उडीकदीयां, दिल वाजा मारदा॥

बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी।

बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी। भक्तों की लगी है कतार भवानी...

🔝