श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी.. भजन (Shri Man Narayan Narayan Hari Hari)


श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी.. भजन

श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी
श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी -x2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी
तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी -x2

भजमन नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

लक्ष्मी नारायण नारायण हरी हरी – 2
बोलो नारायण नारायण हरी हरी – 2

भजो नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

सत्य नारायण नारायण हरी हरी – 2
जपो नारायण नारायण हरी हरी – 2
भजो नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

बोलो नारायण नारायण हरी हरी – 2
भजमन नारायण नारायण हरी हरी – 2
जय जय नारायण नारायण हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2
तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी – 2
श्रीमान नारायण नारायण हरी हरी – 2

हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा
हरी ॐ नमो नारायणा ॐ नमो नारायणा -x2

Shri Man Narayan Narayan Hari Hari in English

Shriman Narayan Narayan Hari Hari , Teri Leela Sabse Nyari Nyari Hari Hari..
यह भी जानें

Bhajan Shri Vishnu BhajanShri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navami BhajanVijay Dashami BhajanSunderkand BhajanRamcharitmanas Katha BhajanAkhand Ramayana BhajanVeerwaar BhajanBrihaspativar BhajanBrihaspati BhajanThursday BhajanGuruwar Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

बेद की औषद खाइ कछु न करै: मॉं गंगा माहात्म्य

माँ गंगा मैया का गरिमामय माहात्म्य॥ बेद की औषद खाइ कछु न करै बहु संजम री सुनि मोसें ।..

गंगा के खड़े किनारे, भगवान् मांग रहे नैया: भजन

गंगा के खड़े किनारे, भगवान् मांग रहे नैया, भगवान् मांग रहे नैया

भजन: ओ गंगा तुम, गंगा बहती हो क्यूँ?

करे हाहाकार निःशब्द सदा, ओ गंगा तुम, गंगा बहती हो क्यूँ?

भजन: मानो तो मैं गंगा माँ हूँ..

मानो तो मैं गंगा माँ हूँ, ना मानो तो बहता पानी, जो स्वर्ग ने दी धरती को, में हूँ प्यार की वही निशानी...

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे: भजन

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे, हो रही जय जय कार मंदिर विच आरती जय माँ।

अब सौंप दिया इस जीवन का, सब भार - भजन

अब सौंप दिया इस जीवन का, सब भार तुम्हारे हाथों में, है जीत तुम्हारे हाथों में...

तू प्यार का सागर है

तू प्यार का सागर है, तेरी एक बूँद के प्यासे हम। लौटा जो दिया तूने, चले जायेंगे जहां से हम..

🔝