जन्माष्टमी मेवा पाग बनाने की विधि (Mewa Pag Recipe)

जन्माष्टमी मेवा पाग बनाने की विधि

बनाने की विधि:
सबसे पहिले मखाने, गरी, छुआरे, काजू, बादाम को अलग-अलग छोटे-छोटे टुकड़ों में कटा लेते हैं। फिर एक कढ़ाई में घी गर्म करें और एक-एक करके सभी मेवाओं को भून लें। चिरौंजी व खरबूजे के बीज को भी हल्की आंच पर भूनें। बाद में गोंद को भी अच्छी तरह से भून लें। और उसका चूर्ण बना लें।

अब एक कढ़ाई में चीनी से एक तार की चाशनी* तैयार करें, चाशनी तैयार हो जाए तो उसमें सभी मेवाओं को अच्छी तरह मिला लें। बाद में इलाइची का पावडर मिलाकर इस मिश्रण को घी लगी थाली में निकाल लें। इस प्रकार आपका स्वादिष्ट मेवा पाग तैयार हो जाता है।

मेवा पाग बनाने की आवश्यक सामग्री:
घी, चीनी, पानी
मखाने, गरी, काजू, बादाम, छुआरे
खरबूजे के बीज, चिरौंजी, इलाइची, गोंद

संबंधित अन्य नाम:
मेवा पाग, जन्माष्टमी पाग, पंचमेवा पाग

BhaktiBharat.com

* मेवा के लिए चाशनी तैयार करने की विधि:
सबसे पहले हम एक कढ़ाई में दो कप चीनी में अधा कप पानी डालकर अच्छी तरह मध्यम आंच पर बनने के लिए रखते हैं, और चीनी के घुलने तक उसको कलछी की सहायता से चलाते रहते हैं। जब चाशनी गाढ़ी होने लगे तब उसको किसी अन्य बर्तन में एक दो बूंद डाल कर देखते हैं। अगर चशनी उस बर्तन में चिपक रही है तो आप तो आप समझिए कि आपकी एक तार की चाशनी बन कर तैयार हो गई है। अब इस में मेवा व गोंद को अच्छी तरह से मिला लेते हैं।

Mewa Pag Recipe in English

cut the makhana, coconut, chuhare, cashew nuts and almonds separately into small pieces.
यह भी जानें

Bhog-prasad Mewa Pag Bhog-prasadJanmashtami Bhog-prasadPuja Bhog-prasadKatha Bhog-prasad

अगर आपको यह bhog-prasad पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस bhog-prasad को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू / जैन समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाने मे सहायक पंचामृत बनाने की सरल विधि..

पारंपरिक मोदक बनाने की विधि!

इनका प्रयोग गणेशोत्सव के दौरान भोग लगाने में किया जाता है, आइए जानते हैं पारंपरिक तरीके से मोदक बनाने की सरल विधि...

वृंदावन पंचामृत बनाने की विधि

हिंदू / जैन समाज में पूजा के बाद पंचामृत प्रसाद के रूप में दिया जाता है। आइये जानते हैं! रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाने मे सहायक पंचामृत बनाने की सरल विधि..

बेसन के लड्‍डू बनाने की विधि

बेसन के लड्‍डू गजानन श्री गणेश को अति प्रिय हैं, अतः इनका प्रयोग गणेशोत्सव के दौरान खूब होता है, आइए जानते हैं इन्हें बनाने की सरल विधि...

साबूदाने की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार भोग के लिए आपकी साबुदाने की खीर बन कर तैयार हो गई।

सिंघाड़े का हलवा बनाने की विधि

सिंघाड़े का हलवा बन कर तैयार हो जाता है। कतलियों को अपने स्वादानुसार काजू अथवा बादाम 1-1 चम्मच से सजा लेते हैं।

चूरमा के लड्‍डू बनाने की विधि

इस प्रकार भोग के लिए चूरमा के लड्डू तैयार हो जाते हैं...

मंदिर

🔝