Shri Ram Bhajan
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Shiv Chalisa - Ram Bhajan -

राम मंदिर के पुरानी मूर्ति का क्या होगा? (What will happen to the old idol of Ram temple?)

राम मंदिर के पुरानी मूर्ति का क्या होगा?
हिंदू धर्म शास्त्रों में कहा गया है कि जब भी किसी मंदिर या नई जगह पर भगवान की नई मूर्ति स्थापित की जाती है तो पुरानी मूर्ति को वहां से हटाना पड़ता है। अयोध्या राम मंदिर का अनावरण 22 जनवरी को होने जा रहा है। भव्य राम मंदिर में श्रीराम के बाल स्वरूप की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। स्थापित होने वाली रामलला की मूर्ति का भी चयन कर लिया गया है। ऐसे में अब सवाल ये है कि राम मंदिर के गर्भगृह में पहले से मौजूद श्री राम की मूर्ति का क्या होगा। माना जा रहा है कि रामलला की नई मूर्ति दुनिया की सबसे खूबसूरत और अलौकिक मूर्ति होगी।
पुरानी मूर्ति का क्या होगा?
माना जा रहा है कि रामलला की नई मूर्ति की स्थापना के साथ ही पुरानी मूर्ति को फिर से मंदिर के गर्भगृह में प्रतिष्ठित किया जाएगा। सबसे पहले मंदिर के गर्भगृह में रामलला की नई बाल स्वरूप मूर्ति स्थापित की जाएगी, उसके बाद फिर से पुरानी मूर्ति स्थापित की जाएगी।

एक तरफ जहां रामलला की नई मूर्ति अचल मूर्ति होगी, यानी इस नई शिशु रूपी मूर्ति को कभी भी गर्भगृह से नहीं हटाया जाएगा और न ही बाहर निकाला जाएगा। वहीं पुरानी प्रतिमा को उत्सव प्रतिमा के नाम से जाना जाएगा। इस प्रतिमा का उपयोग सभी त्योहारों में किया जाएगा।

सरल शब्दों में कहें तो जब भी श्री राम से जुड़ा कोई उत्सव मनाया जाएगा तो इस मूर्ति को गर्भगृह से बाहर निकाल लिया जाएगा और जुलूस आदि धार्मिक कार्यों में उपयोग किया जाएगा, लेकिन बालस्वरूप की मूर्ति हमेशा गर्भगृह में ही स्थापित की जाएगी। भक्तों को दर्शन मिलते रहेंगे।

What will happen to the old idol of Ram temple? in English

It is believed that with the installation of the new idol of Ramlala, the old idol will be re-established in the sanctum of the temple.
यह भी जानें

Blogs Ram Temple In Ayodhya BlogsPran Pratishtha BlogsRam Murti BlogsJai Shri Ram Blogs6 Blogs000 Invitations BlogsShri Vishnu BlogsDashavatar BlogsShaligram Shila BlogsShaligram Avatar BlogsShri Ram Janmbhoomi BlogsRam Mandir BlogsAyodhya Blogs

अगर आपको यह ब्लॉग पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

भक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस ब्लॉग को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

ISKCON

ISKCON संप्रदाय के भक्त भगवान श्री कृष्ण को अपना आराध्य मानते हैं। इनके द्वारा गाये जाने वाले भजन, मंत्र एवं गीतों का कुछ संग्रह यहाँ सूचीबद्ध किया गया है, सभी सनातनी परम्परा के भक्त इसका आनंद लें।

भगवान श्री विष्णु के दस अवतार

भगवान विष्‍णु ने धर्म की रक्षा हेतु हर काल में अवतार लिया। भगवान श्री विष्णु के दस अवतार यानी दशावतार की प्रामाणिक कथाएं।

वृन्दावन होली कैलेंडर

होली का त्योहार देशभर में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, लेकिन कान्हा की नगरी मथुरा में रंगों का यह त्योहार 40 दिनों तक चलता है, जिसकी शुरुआत वसंत पंचमी के दिन से होती है।

होली विशेष 2024

आइए जानें! भारत मे तीन दिनों तक चलने वाला तथा ब्रजभूमि मे पाँच दिनों तक चलने वाले इस उत्सव से जुड़ी कुछ विशेष जानकारियाँ, आरतियाँ एवं भजन...

माघ मास 2024

हिन्दू पंचांग के अनुसार माघ का महीना ग्यारहवां महीना होता है। माघ मास की पूर्णिमा चन्द्रमा और अश्लेषा नक्षत्र में होती है, इसलिए इस मास को माघ मास कहा जाता है। माघ मास में सुख-शांति और समृद्धि के लिए पूजा किया जाता है।

नर्मदा परिक्रमा यात्रा

हिंदू पुराणों में नर्मदा परिक्रमा यात्रा का बहुत महत्व है। मा नर्मदा, जिसे रीवा नदी के नाम से भी जाना जाता है, पश्चिम की ओर बहने वाली सबसे लंबी नदी है। यह अमरकंटक से निकलती है, फिर ओंकारेश्वर से गुजरती हुई गुजरात में प्रवेश करती है और खंभात की खाड़ी में मिल जाती है।

नर्मदा यात्रा में डिजिटल बाबा

प्रसिद्ध डिजिटल बाबा एक युवा संन्यासी हैं जिनका वास्तविक नाम स्वामी राम शंकर है। जो सोशल मीडिया के माध्यम से युवाओं को आध्यात्मिक भारतीय संस्कृति से अवगत कराते रहते हैं। वह युवाओं को जीवन में अध्यात्म का महत्व समझाते रहते हैं। डिजिटल बाबा स्वामी राम शंकर क्षेत्र में सबसे प्रसिद्ध नर्मदा परिक्रमा कर रहे हैं। नर्मदा परिक्रमा के दौरान इस कार्य से जुड़े लोगों के बीच जाकर डिजिटल बाबा सोशल मीडिया के जरिए अपनी पहचान बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP