Download Bhakti Bharat APP
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Aditya Hridaya Stotra -

चैत्र नवरात्रि विशेष 2024 (Chaitra Navratri Specials 2024)

चैत्र नवरात्रि विशेष 2024
हिंदू पंचांग के प्रथम माह चैत्र मे, नौ दिनों तक चलने वाले नवरात्रि पर्व में व्रत, जप, पूजा, भंडारे, जागरण आदि में माँ के भक्त बड़े ही उत्साह से भाग लेते है।
आइए जानें! ऊर्जा से भरे इस उत्सव के जुड़ी कुछ विशेष जानकारियाँ, आरतियाँ, भजन, मंत्र, नामावली, मंदिर एवं रोचक कथाएँ त्वरित(quick) लिंक्स के द्वारा...

नवरात्रि कब, कैसे और क्यों?
चैत्र नवरात्रिराम नवमीचेटी चंडमत्स्य जयंती

माता की आरतियाँ:
जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी
सुन मेरी देवी पर्वतवासनी
अम्बे तू है जगदम्बे काली
माँ दुर्गा, माँ काली

चालीसा:
दुर्गा चालीसा
विन्ध्येश्वरी चालीसा

नवरात्रि मंत्र:
दुर्गा पूजा पुष्पांजली
महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रम् - अयि गिरिनन्दिनि
माँ दुर्गा देव्यापराध क्षमा प्रार्थना स्तोत्रं
सिद्ध कुञ्जिका स्तोत्रम्
श्री विन्ध्येश्वरी स्तोत्रम्
स्वस्ति / स्वस्तिक मंत्र
दैनिक हवन-यज्ञ विधि

नामावली:
श्री दुर्गा माँ के 108 नाम
अथ दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला - श्री दुर्गा द्वात्रिंशत नाम माला
श्री लक्ष्मी के 108 नाम - श्रीलक्ष्मीष्टोत्तरशतनामावलिः
अन्नपूर्णा स्तोत्रम् - नित्यानन्दकरी वराभयकरी

नवरात्रि भजन:
नवरात्रि मे माता रानी के भजन
तुने मुझे बुलाया शेरा वालिये
मैं बालक तू माता शेरां वालिए
आ माँ आ तुझे दिल ने पुकारा
चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है
मन लेके आया, माता रानी के भवन में
मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की
बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी
दुर्गा है मेरी माँ, अम्बे है मेरी माँ
भजन: मेरी अखियों के सामने ही रहना, माँ जगदम्बे
बेटा जो बुलाए माँ को आना चाहिए
सावन की बरसे बदरिया...

ब्लॉग:
चैत्र नवरात्रि घटस्थापना
चैत्र नवरात्रि तिथियों में कैसे करें विधान से पूजा?
नवरात्रि व्रत के भोजन और लाभ
नवरात्रि में कन्या पूजन की विधि
भारत में सात शीर्ष माँ दुर्गा मंदिर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, नवरात्रि कैसे मनाते हैं?
❀ कोरोना: लॉकडाउन, जनता कर्फ्यू, क्वारंटाइन के समय क्या पढ़ें?
चैत्र नवरात्रि के शुभ ज्योतिषीय उपाय

नवमी स्पेशल:
श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन
भए प्रगट कृपाला दीनदयाला
श्री राम रक्षा स्तोत्रम्
श्री राम रामेति रामेति रमे रामे मनोरमे
श्री राम भजन

माता के मंदिर:
दिल्ली मे प्रसिद्ध माता रानी के मंदिर
दिल्ली के प्रमुख कालीबाड़ी मंदिर
श्री चंद्रभागा शक्ति पीठ, सोमनाथ
माँ ब्रह्माणी मंदिर, इटावा
श्री महालक्ष्मी मंदिर, पुणे
श्री महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई
श्री मुंबा देवी मंदिर, मुंबई
नवरात्रि 2024 की तारीखें
Navratri 2024 Dates
दिन तिथि नवरात्रि में देवी के नाम
9 अप्रैल प्रतिपदा माता शैलपुत्री पूजा, नवरात्रि घटस्थापना, नववर्ष, चेटी चंड
10 अप्रैल द्वितीया माता ब्रह्मचारिणी पूजा
11 अप्रैल तृतीया माता चंद्रघंटा पूजा, मत्स्य जयन्ती, गणगौर
12 अप्रैल चतुर्थी माता कुष्मांडा पूजा, लक्ष्मी पंचमी
13 अप्रैल पंचमी माता स्कंद माता पूजा
14 अप्रैल षष्ठी माता कात्यायनी पूजा
15 अप्रैल सप्तमी माता कालरात्रि पूजा
16 अप्रैल अष्टमी महा गौरी पूजा
17 अप्रैल नवमी राम नवमी, माता सिद्धिदात्री पूजा, स्वामीनारायण जयंती
18 अप्रैल दशमी नवरात्रि व्रत समाप्त।

Chaitra Navratri Specials 2024 in English

The nine-day Navratri festival, fasting, chanting, worshiping, Bhandare, Jagaran, etc., take place with great enthusiasm by the devotees of the Mata Durga. Navratri Start From 9 April 2024 and ends on 16 April 2024
यह भी जानें

अगले उत्सव, पर्व, व्रत एवं पूजा:
हनुमान जयंती / श्री हनुमान जन्मोत्सव
पना संक्रांतिवैशाखी

Blogs Maa Durga BlogsMata BlogsNavratri BlogsMaa Sherawali BlogsJagran BlogsMata Ki Chauki BlogsNavratri Aarti BlogsNavratri Bhajan BlogsNavratri Mantra Blogs

अगर आपको यह ब्लॉग पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस ब्लॉग को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

नेत्र उत्सव

नेत्रोत्सव रथ यात्रा से एक दिन पहले आयोजित किया जाता है।

अधर पणा

अधर पणा अनुष्ठान आषाढ़ महीने त्रयोदशी तिथि पर पुरी जगन्नाथ मंदिर में आयोजित किया जाता है।

स्नान यात्रा

स्नान यात्रा जो कि देवस्नान पूर्णिमा या स्नान पूर्णिमा नाम से भी जाना जाता है।

नीलाद्रि बिजे

नीलाद्रि बिज महोत्सव वार्षिक रथ यात्रा उत्सव के समापन का प्रतीक है।

माता गंगा की मूर्ति पूजा क्यों वर्जित है जबकि गंगा जल शुभ है?

गंगाजल को हिन्दू धर्म में बहुत ही पवित्र माना जाता है। इसलिए इसे घर में रखने की सलाह दी जाती है, लेकिन फिर मां गंगा की मूर्ति को घर में रखने की मनाही क्यों है। माता गंगा को हिन्दू धर्म में पवित्र, पूजनीय और माता माना गया है। इसलिए गंगा स्नान से लेकर घर में गंगाजल रखने तक को महत्वपूर्ण और लाभकारी बताया गया है।

ISKCON

ISKCON संप्रदाय के भक्त भगवान श्री कृष्ण को अपना आराध्य मानते हैं। इनके द्वारा गाये जाने वाले भजन, मंत्र एवं गीतों का कुछ संग्रह यहाँ सूचीबद्ध किया गया है, सभी सनातनी परम्परा के भक्त इसका आनंद लें।

भगवान जगन्नाथ चंदन यात्रा

चंदन यात्रा भारत के पुरी में जगन्नाथ मंदिर में मनाया जाने वाला सबसे लंबा त्योहार है। अक्षय तृतीया से शुरू होकर 21 दिनों तक चलता है।...

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP