Hanuman Chalisa
Chaitra Navratri Specials 2024 - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Hanuman Chalisa -

महाकालेश्वर: मंदिर में महाकाल को केसर जल चढ़ाकर मनाया गया रंगपंचमी का पर्व (Mahakaleshwar: The Festival of Rangpanchami was Celebrated by Offering Saffron Water to Mahakal in the Temple)

महाकालेश्वर: मंदिर में महाकाल को केसर जल चढ़ाकर मनाया गया रंगपंचमी का पर्व
उज्जैन श्री महाकालेश्वर मंदिर में रंगपंचमी का पर्व हर्षोल्लास और उमंग के साथ मनाया जा रहा हैं। बाबा महाकाल को केसरयुक्त जल अर्पित कर प्रतीकात्मक रूप से रंगपंचमी का त्योहार मनाया गया।
आज चैत्र कृष्ण पक्ष की पंचमी पर तड़के भस्म आरती के दौरान चार बजे मंदिर के पट खुलते ही पंडे पुजारियों ने गर्भगृह में स्थापित भगवान की प्रतिमाओं का पूजन किया। भगवान महाकाल का जलाभिषेक दूध, दही, घी, शक्कर और फलों के रस से बने पंचामृत से कर पूजन अर्चन किया गया। प्रथम घंटाल बजाकर हरि ओम का जल अर्पित किया गया। साथ ही केसरयुक्त जल अर्पित कर प्रतीकात्मक रूप से रंगपंचमी का त्योहार मनाया गया। कपूर आरती के बाद बाबा महाकाल को चांदी का मुकुट और रुद्राक्ष व पुष्पों की माला धारण करवाई गई। श्रृंगार के बाद बाबा महाकाल के ज्योतिर्लिंग को कपड़े से ढांककर भस्म रमाई गई और फिर भोग लगाया गया। भस्म आरती में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे जिन्होंने बाबा महाकाल के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर जय श्री महाकाल की गूंज से गुंजायमान हो गया।

सभी श्रद्धालुओं को मंदिर में किसी प्रकार का रंग-गुलाल लेकर प्रवेश नहीं कर सकें, इसके लिए श्रद्धालुओं को जांच के बाद मंदिर में प्रवेश दिया गया।

Mahakaleshwar: The Festival of Rangpanchami was Celebrated by Offering Saffron Water to Mahakal in the Temple in English

The festival of Rangpanchami was celebrated symbolically by offering saffron water to Baba Mahakal.
यह भी जानें

News Rangpanchami NewsSaffron Water NewsBhasma Aarti NewsPhalgun Shukla Paksha NewsBhagwan Mahakal NewsMahakaleshwar Jyotirlinga NewsCity Of Mahakal NewsShani Pradosh NewsUjjain-indore NewsSomvatiamavasya NewsBhagwan Shiv News

अगर आपको यह हिंदी न्यूज़ पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस हिंदी न्यूज़ को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

उज्जैन समाचार: भस्मारती में बाबा महाकाल का त्रिनेत्र श्रृंगार किया गया

चैत्र शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि पर विश्व प्रसिद्ध श्री महाकालेश्वर मंदिर में तड़के भस्म आरती के दौरान बाबा महाकाल का त्रिनेत्र और मुंड माला से श्रृंगार किया गया।

रामनवमी पर सूर्य की किरणों से होगा रामलला का तिलक

अयोध्या में रामनवमी पर सूर्य की किरणों से होगा रामलला का तिलक।

बिजासन देवी मंदिर मध्य प्रदेश: मन्नत पूरी होने पर माता को अर्पित किए जाते हैं पीतल के घंटे

बिजासन देवी मंदिर में मनोकामना पूरी होने पर माता को चढ़ाई जाती हैं पीतल की घंटियां।

राजस्थान जोधपुर: नवरात्रि के पहले दिन ईडाणा माता का अग्नि स्नान

राजस्थान के जोधपुर जिले के मेहरानगढ़ में ऐतिहासिक ईडाणा माता का मंदिर है। मां ईडाणा साल के दोनों नवरात्रि के दिनों में अग्नि स्नान करती हैं।

बाबा खाटू श्याम को आखिर गुलाब क्यों अर्पित करते हैं?

हर दिन बाबा खाटू श्याम का विशेष श्रृंगार और आरती की जाती है। भक्त बाबा श्याम को गुलाब के फूल भी चढ़ाते हैं।

गर्मी से बचने के लिए रामलला पांच बार सोने की कटोरी में मधुपर्क ले रहे हैं

गर्मी के मौसम को देखते हुए रामलला के प्रसाद में मधुपर्क को शामिल कर लिया गया है।

चैत्र नवरात्रि पर सुगम विंध्याचल दर्शन

चैत्र नवरात्रि में मां विंध्यवासिनी के कपाट 24 घंटे खुले रहेंगे और आरती के समय मंदिर बंद रहेगा।

Hanuman Chalisa -
Hanuman Chalisa -
×
Bhakti Bharat APP