Download Bhakti Bharat APP

राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा - भजन (Radha Dundh Rahi Kisine Mera Shyam Dekha)


राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा - भजन

राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा,
श्याम देखा, घनश्याम देखा,
ओ बंसी बजाते हुए,
ओराधा तेरा श्याम देखा ॥

राधा तेरा श्याम हमने मथुरा मैं देखा,
बंसी बजाते हुए,
ओराधा तेरा श्याम देखा ॥

राधा तेरा श्याम हमने गोकुल मैं देखा
गैया चराते हुए ओ राधा तेरा श्याम देखा ॥

राधा तेरा श्याम हमने वृन्दावन मैं देखा
रास रचाते हुए ओ राधा तेरा श्याम देखा ॥

राधा तेरा श्याम हमने गतिपुरा मैं देखा,
गोवर्धन उठाते हुए ओ राधा तेरा श्याम देखा ॥

राधा तेरा श्याम हमने सर्वजगत मैं देखा,
राधा राधा जपते हुए,
ओराधा तेरा श्याम देखा ॥

श्याम देखा, घनश्याम देखा,
ओ बंसी बजाते हुए,
ओराधा तेरा श्याम देखा ॥
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा

आरती कुंजबिहारी की | आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन | श्री बांके बिहारी तेरी आरती गाऊं | आरती श्री बाल कृष्ण जी की | ॐ जय जगदीश हरे | मधुराष्टकम्: धरं मधुरं वदनं मधुरं | कृष्ण भजन | अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं | श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी

Radha Dundh Rahi Kisine Mera Shyam Dekha in English

Radha Dhundh Rahi Kisi Ne Mera Shyam Dekha, O Bansi Bajate Hue, Oradha Tera Shyam Dekha ॥
यह भी जानें

Bhajan Shri Radha Krishna BhajanShri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया: भजन

ऐसा सुंदर स्वभाव कहाँ पाया, राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया । पर नारी पर दृष्टि न ड़ाली..

भजन: मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी..

मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी ना करना निराश, पग पग संग जाऊं जाऊं बनवास...

राम ही पार लगावेंगे: भजन

अजी मैं तो राम ही राम भजूँ री मेरे राम, राम ही पार लगावेंगे..

भजन: ओ मईया तैने का ठानी मन में

ओ मईया तैने का ठानी मन में, राम-सिया भेज दये री बन में, दीवानी तैने का ठानी मन में...

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी: भजन

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी, इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन..

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए: भजन

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए, माँ की नाक की नथनिया, दमदम दमदम दमकी जाए, माँ की लाल रे चुनरियाँ, देखो लहर लहर लहराए ॥

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई: भजन

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई, वो आ गई वो आ गई, वो आ गई मेरी माँ, दुख की बदली,
जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई ॥

Hanuman Chalisa
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App