संकट के साथी को हनुमान कहते हैं: भजन (Sankat Ke Sathi Ko Hanuman Kahate Hain)


संकट के साथी को हनुमान कहते हैं: भजन

श्री हनुमान जन्मोत्सव, मंगलवार व्रत, शनिवार पूजा, बूढ़े मंगलवार, सुंदरकांड, रामचरितमानस कथा और अखंड रामायण के पाठ में प्रमुखता से गाये जाने वाला भजन।

दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं॥
पढ़ लो सारे वेद और पुराण कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं॥
॥ दुनिया के मालिक को भगवान...॥

दुनिया के मालिक को भगवान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं

जब रिश्तेदार तुमसे मुखड़ा छुपाए, हनुमान तेरा साथ निभाए
हनुमान तेरा साथ निभाए, हनुमान तेरा साथ निभाए

जब दुनिया वाले दें ना सहारा, हनुमान पकड़े दामन तुम्हारा
हनुमान पकड़े दामन तुम्हारा, हनुमान पकड़े दामन तुम्हारा

पढ़ लो सारे
पढ़ लो सारे वेद और पुराण कहते हैं
पढ़ लो सारे वेद और पुराण कहते हैं

संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
॥ दुनिया के मालिक को भगवान...॥

जो काम इसके वश में नहीं है,
एक काम हमको ऐसा बता दो
एक काम हमको ऐसा बता दो,
एक काम हमको ऐसा बता दो

हनुमान खुश हो जाएगा तुमसे,
बस इनको थोड़ा सिंदूर लगा दो
बस इनको थोड़ा सिंदूर लगा दो,
बस इनको थोड़ा सिंदूर लगा दो

दुनिया के
दुनिया के सारे इंसान कहते हैं
दुनिया के सारे इंसान कहते हैं

संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
॥ दुनिया के मालिक को भगवान...॥

दिल से जो इनकी भक्ति करेगा, हनुमान उसका साथी बनेगा
हनुमान उसका साथी बनेगा, हनुमान उसका साथी बनेगा

‘बनवारी’ जो भी शरण में रहेगा, ये उसका बेड़ा पार करेगा
ये उसका बेड़ा पार करेगा, ये उसका बेड़ा पार करेगा

इनके बारे में
इनके बारे में श्रीराम कहते हैं
इनके बारे में श्रीराम कहते हैं

संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
॥ दुनिया के मालिक को भगवान...॥

संकट के साथी को हनुमान कहते हैं
संकट के साथी को हनुमान कहते हैं

Sankat Ke Sathi Ko Hanuman Kahate Hain in English

Duniya Ke Malik Ko Bhagvan Kahate Hain, Sankat Ke Sathi Ko Hanuman Kahate Hain
यह भी जानें

Bhajan Shri Hanuman BhajanBajrangbali BhajanHanuman Jayanti BhajanBalaji BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanBudhwa Mangal BhajanMangalwar BhajanTuesday Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

लाल लाल चुनरी सितारो वाली: भजन

लाल लाल चुनरी सितारों वाली, सितारो वाली, जिसे ओढकर आई है...

शेरोवाली के दरबार में रंग बरसे: भजन

रंग बरसे देखो रंग बरसे, शेरोवाली के दरबार में रंग बरसे, अम्बेवाली दे दरबार में रंग बरसे...

जयपुर की चुनरिया मैं लाई शेरावालिये: भजन

जयपुर की चुनरिया, मैं लाई शेरावालिये, आगरा से लहंगा, जयपुर से चुनरिया...

जयपुर से लाई मैं तो चुनरी: भजन

जयपुर से लाई मैं तो, चुनरी रंगवाई के, गोटा किनारी अपने..

भजन: मुखड़ा देख ले प्राणी, जरा दर्पण में

मुखड़ा देख ले प्राणी, जरा दर्पण में हो, देख ले कितना, पुण्य है कितना, पाप तेरे जीवन में, देख ले दर्पण में..

कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना!

कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना, मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना॥

राधा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे।

राधा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे। श्यामा को नाम अनमोल बोलो राधे राधे॥

मंदिर

Download BhaktiBharat App Go To Top