Download Bhakti Bharat APP
Hanuman Chalisa - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel - Hanuman Chalisa - Achyutam Keshavam -

इस्कॉन मंदिर पूरी - Puri ISKCON Temple

मुख्य आकर्षण - Key Highlights

◉ दुनिया भर में इस्कॉन के बड़े परिवार का मजबूत आध्यात्मिक नेटवर्क वाली पृष्ठभूमि।
◉ धर्मशाला एवं भोजनालय की सुविधा के साथ।

श्री श्री राधा गिरिधारी मंदिर इस्कॉन मंदिरों की श्रृंखला का मंदिर है। पुरी इस्कॉन मंदिर में मुख्य देवता श्री कृष्ण के साथ-साथ प्रभु जगन्नाथ, भगवान बलवद्र और देवी सुभद्रा भी हैं। श्री श्री राधा गिरिधारी मंदिर श्री गौरा नितई, श्री राधा गोपीनाथ, श्री कृष्ण बलराम की पूजाकी जाती हैं।

एक सुंदर आधार के साथ बना यह मंदिर, भक्तों को आवास एवं शुद्ध शाकाहारी भोजन की सुविधा प्रदान करता हैं। मंदिर समुद्र तट के बहुत ही निकट स्थापित है। श्री श्री राधा गिरिधारी मंदिर की सुबह की मंगला आरती और शाम की संध्या आरती भक्तों के बीच अत्यधिक लोकप्रिय हैं।

प्रचलित नाम: श्री श्री राधा गिरिधारी मंदिर

समय - Timings

दर्शन समय
4:30 AM - 1:00 PM, 4:15 PM - 9:00 PM
त्योहार

Puri ISKCON Temple in English

श्री श्री राधा गिरिधारी मंदिर (Sri Sri Radha Giridhari Mandir) is the series of ISKCON Temples. Selfie with main deity is prohibited, otherwise almost all ISKCON Temples allowed to capture photographs.

जानकारियां - Information

मंत्र
हरे कृष्ण हरे कृष्ण, कृष्ण कृष्ण हरे हरे! हरे राम हरे राम, राम राम हरे हरे!!
धाम
Sri Sri Radha GiridhariGarun DevMaa Tulasi
बुनियादी सेवाएं
Prasad, CCTV Security, Washroom
धर्मार्थ सेवाएं
धर्मशाला, भोजनालय
स्थापना
इस्कॉन - कृष्ण चेतना के लिए अंतर्राष्ट
देख-रेख संस्था
इस्कॉन - कृष्ण चेतना के लिए अंतर्राष्ट
फोटोग्राफी
हाँ जी (मंदिर के अंदर तस्वीर लेना अ-नैतिक है जबकि कोई पूजा करने में व्यस्त है! कृपया मंदिर के नियमों और सुझावों का भी पालन करें।)
नि:शुल्क प्रवेश
हाँ जी

कैसे पहुचें - How To Reach

पता 📧
Bhakti Kuti, K M Munshi Marg, Swargadwar Puri Odisha
सड़क/मार्ग 🚗
New Marine Drive Road
रेलवे 🚉
Puri Railway Station
हवा मार्ग ✈
Biju Patnaik International Airport, Bhubaneswar
नदी ⛵
Dhaudia
सोशल मीडिया
निर्देशांक 🌐
19.793321°N, 85.81532°E
इस्कॉन मंदिर पूरी गूगल के मानचित्र पर
http://www.bhaktibharat.com/mandir/iskcon-temple-puri

अगला मंदिर दर्शन - Next Darshan

अपने विचार यहाँ लिखें - Write Your Comment

अगर आपको यह मंदिर पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस मंदिर को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

हनुमान आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम्॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥..

श्री शनि देव: आरती कीजै नरसिंह कुंवर की

आरती कीजै नरसिंह कुंवर की। वेद विमल यश गाउँ मेरे प्रभुजी॥ पहली आरती प्रह्लाद उबारे। हिरणाकुश नख उदर विदारे...

सन्तोषी माता आरती

जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता। अपने सेवक जन की सुख सम्पति दाता..

×
Bhakti Bharat APP