होली भजन: आज बिरज में होरी रे रसिया। (Aaj Biraj Mein Hori Re Rasiya)


आज बिरज में होरी रे रसिया
आज बिरज में होरी रे रसिया।
होरी रे होरी रे बरजोरी रे रसिया॥

अपने अपने घर से निकसी,
कोई श्यामल कोई गोरी रे रसिया।

कौन गावं के कुंवर कन्हिया,
कौन गावं राधा गोरी रे रसिया।

नन्द गावं के कुंवर कन्हिया,
बरसाने की राधा गोरी रे रसिया।

कौन वरण के कुंवर कन्हिया,
कौन वरण राधा गोरी रे रसिया।

श्याम वरण के कुंवर कन्हिया प्यारे,
गौर वरण राधा गोरी रे रसिया।

इत ते आए कुंवर कन्हिया,
उत ते राधा गोरी रे रसिया।

कौन के हाथ कनक पिचकारी,
कौन के हाथ कमोरी रे रसिया।

कृष्ण के हाथ कनक पिचकारी,
राधा के हाथ कमोरी रे रसिया।

उडत गुलाल लाल भए बादल,
मारत भर भर झोरी रे रसिया।

अबीर गुलाल के बादल छाए,
धूम मचाई रे सब मिल सखिया।

चन्द्र सखी भज बाल कृष्ण छवि,
चिर जीवो यह जोड़ी रे रसिया।

आज बिरज में होरी रे रसिया।
होरी रे होरी रे बरजोरी रे रसिया॥

Aaj Biraj Mein Hori Re Rasiya in English

Aaj Biraj Mein Hori Re Rasiya, Hori Re Hori Re Barajori Re Rasiya...
यह भी जानें

BhajanShri Krishna BhajanHoli Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भजन: श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी

श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी, हे नाथ नारायण वासुदेवा॥

भजन: अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं, राम नारायणं जानकी बल्लभम।

मैं तो बांके की बांकी बन गई

मैं तो बांके की बांकी बन गई, और बांका बन गया मेरा, इस बांके का सब कुछ बांका...

भजन: हरि नाम के रस को पी पीकर

हरि नाम के रस को पी पीकर, आनंद में जीना सीख लिया, हरी नाम के रस को पी पीकर, आनंद में जीना सीख लिया...

भजन: घुमा दें मोरछड़ी

हीरा मोत्या जड़ी जड़ी, संकट काटे खड़ी खड़ी, मेरे सर पे बाबा, घुमा दे मोरछड़ी..

भोग भजन: जीमो जीमो साँवरिया थे

उमा लहरी द्वारा श्री कृष्ण भजन - जीमो जीमो साँवरिया थे, आओ भोग लगाओ जी, बाँसुरिया की तान सुनाता..

मीरा बाई भजन: ऐ री मैं तो प्रेम-दिवानी

ऐ री मैं तो प्रेम-दिवानी, मेरो दर्द न जाणै कोय । दर्द की मारी बन-बन डोलूं, बैद मिल्यो नही कोई ॥

🔝