होलिका दहन | चैत्र नवरात्रि | आज का भजन! | भक्ति भारत को फेसबुक पर फॉलो करें!

मीठे गुना बनाने की विधि


मीठे गुना बनाने की विधि

बनाने की विधि:
सर्व प्रथम, एक भगौने में मध्यम आंच पर पानी को गर्म करते हैं। अब इस में चीनी डाल कर एक चम्मच की सहायता से घोल लेते हैं। चीनी घुल जाने के बाद इलायची पाउडर मिला देते हैं, और गैस को बन्द कर देते हैं। इस बने हुए घोल को ठंडा होने देते हैं। ठंडा होजाने के बाद घोल को छलनी की सहायता से किसी अन्य बर्तन में छान लें।

अब एक बर्तन (परात) में छना हुआ आटा लेते हैं, और इस आटे में पिघला हुआ घी डालकर कर दोनों हाथों की सहायता से अच्छी तरह मिला लेते हैं। जब आटे में घी अच्छी तरह मिल जाए, तब उसमे ठंडे चीनी के घोल को डाल कर आटे को सख्त गूंथ लेते हैं। अब इस गुंथे आटे को भीगे हुए कपड़े से २५-३० मिनट के लिए ढक कर रख देते हैं। जिससे कि आटा अच्छी तरह सेट हो जाए।

२५-३० मिनट के बाद हाथों में घी लगा कर आटे को अच्छी तरह मसल कर चिकना कर लेते हैं। जब आटा चिकना हो जाए तब उसमे से एक मध्यम आकार के अमरूद के बराबर लोई तोड़ लेते हैं। अब इस लोई को चपटा कर के इसके बीच में एक छेद कर लेते हैं। इस छेद को चौड़ा कर प्लेन चूड़ी के जैसा आकार दे देते हैं। इस चूड़ी के आकार में, अंदर की तरफ अगूंठा व बाहर की तरफ दो उगलियों को बीच में फंसा कर हल्का सा दबा देते हैं। जिससे एक उभार (गांठ) बन जाता है, इस प्रकार थोड़ी-थोड़ी दूरी पर उभार बनाते जाते हैं। जब चूड़ी/रिंग की पूरी गोलाई पर गांठ बन जाएं, तो इस चूड़ी को पलट कर इन गांठों और उभार लेते हैं। इस प्रकार से यह चूड़ी एक कंगन का आकर ले ले ती है, और आपका गुना बन कर तैयार हो जाता है। इस तरह सारे आटे के गुना बना कर तैयार कर लेते हैं।

सेकने/तलने की विधि:
अब एक कड़ाई में घी या रिफाइंड डालकर धीमी आंच पर गरम करते हैं। जब घी हल्का गर्म हो जाए, तब इसमें गुना को डाल देते हैं, और थोड़ी देर के बाद कलछी की सहायता से पलट लेते हैं। जब यह गुना दोनों तरफ सुनहरा (डार्क गोल्डन ब्राउन) हो जाए तो इसे कढ़ाई में से निकाल लेते हैं। इस प्रकार सभी गुनाओं को सेक(तल) लेते हैं। पर इस बात का ध्यान अवश्य रखें की, गुना एक-एक करके ही कढ़ाई में तलें/सेके।

आवश्यक सामग्री:
गेहूं का आटा, घी या रिफाइंड, चीनी, पानी, इलाइची

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

BhaktiBharat.com

ये भी जानें

Bhog-prasadGuna Bhog-prasadGangaur Bhog-prasadAnant Chaturdashi Bhog-prasad


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

मूंग दाल के मगौड़े बनाने की विधि

...डार्क ब्राउन हो जाने के बाद उन्हें एक प्लेट में निकाल लेते हैं इसी प्रकार मिश्रण से सारे मगौड़े बना लेते हैं।

तिल-गुड़ के लड्डू बनाने की विधि

...जब मिश्रण हल्का गरम हो तभी लड्डू बना लें ठंडा होने पर लड्डू नहीं बन पाएँगे।

साबूदाना खिचड़ी बनाने की विधि

साबूदाना को एक बर्तन में साफ पानी में डाल कर निकाल लेते है धुले हुए साबूदानों को आधा कप पानी डाल कर ५ से६ घंटे के लिए भिगोने रख देते हैं...

बाजरा की मङियाँ बनाने की विधि

...गूथे हुए आटे की टिक्की बना कर तैयार कर लेते हैं। इस प्रकार एक बार में तीन से चार टिक्की एक कढ़ाई में तली जा सकती हैं।

अनरसे बनाने की विधि

...अनरसे को तलने के लिए घी न ज्यादा गरम हो और न ज्यादा ठंडा।

रस खीर बनाने की विधि

...भारत के कुछ जगहों पर, रस खीर को दूध के साथ मिलाकर भी बनाया जाता है।

मीठे पुआ बनाने की विधि

जब घी अच्छी तरह गरम हो जाए* तब हाथ से पांच छह पुआ गरम घी में डाल देते हैं...

मीठे गुना बनाने की विधि

...पर इस बात का ध्यान अवश्य रखें की, गुना एक-एक करके ही कढ़ाई में तलें/सेके।

खोया-तिल के लड्डू बनाने की विधि

...तिल से चिट-चिट की आवाज आना बंद होज़ाये तो समझिए सारे तिल भुन गये हैं।

गुड़ की खीर बनाने की विधि

...इस प्रकार छ्ट पूजा में भोग के लिए गुड़ की खीर बन कर तैयार हो जाती है।

close this ads
^
top