close this ads

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।


राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।
कृष्ण नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।

माया के दीवानों सुन लो, एक दिन ऐसा आएगा।
धन दौलत और माल खजाना, यही पड़ा रह जायेगा।
सुन्दर काया मिट्टी होगी, चर्चा होगी गली गली॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

क्यों करता तू मेरा मेरी, यह तो तेरा मकान नहीं।
झूठे जन में फंसा हुआ है, वह सच्चा इंसान नहीं।
जग का मेला दो दिन का है, अंत में होगी चला चली॥

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

जिन जिन ने यह मोती लुटे, वह तो माला माल हुए।
धन दौलत के बने पुजारी, आखिर वह कंगाल हुए।
चांदी सोने वालो सुन लो, बात सुनाऊँ खरी खरी॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

दुनिया को तू कब तक पगले, अपनी कहलायेगा।
ईश्वर को तू भूल गया है, अंत समय पछतायेगा।
दो दिन का यह चमन खिला है, फिर मुरझाये कलि कलि॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।
कृष्ण नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।

बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

Read Also
» चार धाम | द्वादश ज्योतिर्लिंग! | सप्त मोक्ष पुरी!
» सीता नवमी | राम नवमी | हनुमान जयंती
» आरती: ॐ जय जगदीश हरे | आरती कीजै श्री रघुवर जी की | आरती कीजै रामचन्द्र जी
» श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन! | मेरे राम मेरे घर आएंगे

BhajanShri Vishnu BhajanShri Ram BhajanShri Krishna BhajanMridul Shastri Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें साझा जरूर करें: यहाँ साझा करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

पहिले पहिल, छठी मईया व्रत तोहार।

पहिले पहिल हम कईनी, छठी मईया व्रत तोहार। करिहा क्षमा छठी मईया, भूल-चूक गलती हमार...

कन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगे...

कन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगे, लताओं में बृज की गुजारा करेंगे। कहीं तो मिलेंगे वो बांके बिहारी...

कबहुँ ना छूटी छठि मइया...

कबहुँ ना छूटी छठि मइया, हमनी से बरत तोहार, हमनी से बरत तोहार...

हो दीनानाथ - छठ पूजा गीत

सोना सट कुनिया, हो दीनानाथ हे घूमइछा संसार, आन दिन उगइ छा हो दीनानाथ आहे भोर भिनसार...

मारबो रे सुगवा - छठ पूजा गीत

ऊ जे केरवा जे फरेला खबद से, ओह पर सुगा मेड़राए। मारबो रे सुगवा धनुख से, सुगा गिरे मुरझाए।...

श्री गोवर्धन महाराज आरती!

श्री गोवर्धन महाराज, ओ महाराज, तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ...

बाल लीला: राधिका गोरी से बिरज की छोरी से...

राधिका गोरी से बिरज की छोरी से, मैया करादे मेरो ब्याह...

मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है।

मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है। करते हो तुम कन्हिया मेरा नाम हो रहा है॥

मीरा दीवानी हो गयी रे..

मीरा दीवानी हो गयी रे, मीरा दीवानी हो गयी। मीरा मस्तानी हो गयी रे..

प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना।

प्रभु हम पे कृपा करना, प्रभु हम पे दया करना। बैकुंठ तो यही है, हृदय में रहा करना॥

^
top