पितृ पक्ष | शारदीय नवरात्रि | शरद पूर्णिमा | आज का भजन!

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।


राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।
कृष्ण नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।

माया के दीवानों सुन लो, एक दिन ऐसा आएगा।
धन दौलत और माल खजाना, यही पड़ा रह जायेगा।
सुन्दर काया मिट्टी होगी, चर्चा होगी गली गली॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

क्यों करता तू मेरा मेरी, यह तो तेरा मकान नहीं।
झूठे जन में फंसा हुआ है, वह सच्चा इंसान नहीं।
जग का मेला दो दिन का है, अंत में होगी चला चली॥

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

जिन जिन ने यह मोती लुटे, वह तो माला माल हुए।
धन दौलत के बने पुजारी, आखिर वह कंगाल हुए।
चांदी सोने वालो सुन लो, बात सुनाऊँ खरी खरी॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
॥ राम नाम के हीरे मोती...॥

दुनिया को तू कब तक पगले, अपनी कहलायेगा।
ईश्वर को तू भूल गया है, अंत समय पछतायेगा।
दो दिन का यह चमन खिला है, फिर मुरझाये कलि कलि॥
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

राम नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।
कृष्ण नाम के हीरे मोती, मैं बिखराऊँ गली गली।

ले लो रे कोई राम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।
ले लो रे कोई श्याम का प्यारा, शोर मचाऊँ गली गली।

बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।
बोलो राम बोलो राम, बोलो राम राम राम।

यह भी जानें

BhajanShri Vishnu BhajanShri Ram BhajanShri Krishna BhajanMridul Shastri Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भजन: मन तड़पत हरि दर्शन को आज

मन तड़पत हरि दर्शन को आज, मोरे तुम बिन बिगड़े सकल काज, विनती करत हूँ रखियो लाज..

भजन: गौरी के नंदा गजानन, गौरी के नन्दा

गौरी के नंदा गजानन, गौरी के नन्दा, म्हने बुद्धि दीजो गणराज गजानन, गौरी के नन्दा ॥

भजन: शंकर जी का डमरू बाजे

शंकर जी का डमरू बाजे, पार्वती का नंदन नाचे॥ बर्फीले कैलाशिखर पर जय गणेश की धूम

भजन: मेरे लाडले गणेश प्यारे प्यारे!

मेरे लाडले गणेश प्यारे प्यारे, भोले बाबा जी की आँखों के तारे, प्रभु सभा बीच में आ जाना आ जाना...

भजन: घर में पधारो गजानन जी!

घर में पधारो गजाननजी, मेरे घर में पधारो, ग्रह प्रवेश के समय गाए जाने वाला पॉपुलर श्री गणेश भजन...

भजन: गजानन करदो बेड़ा पार!

गजानन करदो बेडा पार, आज हम तुम्हे मनाते हैं, तुम्हे मनाते हैं, गजानन तुम्हे मनाते हैं॥

भजन: बड़ी देर भई, कब लोगे खबर मोरे राम

बड़ी देर भई, बड़ी देर भई, कब लोगे खबर मोरे राम, बड़ी देर भई...

भजन: कब दर्शन देंगे राम परम हितकारी

कब दर्शन देंगे राम परम हितकारी, कब दर्शन देंगे राम दीन हितकारी, रास्ता देखत शबरी की उम्र गयी सारी..

भजन: राधिके ले चल परली पार!

किशोरी ले चल परली पार, राधिके ले चल परली पार, श्यामा चल परली पार...

भजन: मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...

मेंरो मन लग्यो बरसाने में, जहाँ विराजे राधा रानी, मन हट्यो दुनियाँदारी से, मन हट्यो दुनियाँदारी से...

top