close this ads

मेरे राम मेरे घर आएंगे, आएंगे प्रभु आएंगे...


श्री राम नवमी, विजय दशमी, सुंदरकांड, रामचरितमानस कथा और अखंड रामायण के पाठ में प्रमुखता से गाये जाने वाला भजन।

मेरे राम मेरे घर आएंगे, आएंगे प्रभु आएंगे
प्रभु के दर्शन की आस है, और भीलनी को विशवास है
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

अंगना रस्ता रोज बुहार रही, खड़ी खड़ी वो राह निहार रही
मन में लगन, भीलनी मगन,
भीलनी को भारी चाव है और मन में प्रेम का भाव है
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

ना जानू सेवा पूजा की रीत, क्या सोचेंगे मेरे मन के मीत
शर्म आ रही, घबरा रही
वो भोली भाली नार है, प्रभु को भोलों से प्यार है
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

चुन चुन लायी खट्टे मीठे बेर, आने में क्यों करते हो प्रभु देर
प्रभु आ रहे, मुस्का रहे,
प्रभु के चरणो में गिर पड़ी और असुअन की लागी झड़ी
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

असुअन से धोए प्रभु जी के पैर, चख चख कर के खिला रही थी बेर
प्रभु कह रहे, मुस्का रहे
इक प्रेम के वष में राम है, और प्रेम का यह परिणाम है
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

प्रभु तेरी खातिर अटक रहे थे प्राण, मुक्ति दे दो मुझको कृपा निधान
लेलो शरण, अपनी चरण
शबरी से बोले राम हैं, जा खुला तेरे लिए धाम है
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

जो कोई ढूंढे प्रभु को दिन और रात, उसे ढूंढ़ते इक दिन दीनानाथ
हरी को भजो, सुमिरन करो,
‘बिन्नू’ यह निश्चय जान लो, तुम प्रभु को अपना मान लो
मेरे राम मेरे घर आएंगे...

Read Also
» राम नवमी | सीता नवमी | हनुमान जयंती
» आरती: ॐ जय जगदीश हरे | आरती कीजै श्री रघुवर जी की | आरती कीजै रामचन्द्र जी | आरती: सीता माता की
» श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन! | मेरे राम मेरे घर आएंगे

Hindi Version in English

Popular bhajan prominently sing during Shri Ram Navami, Vijay Dashami, Sunderkand, Ramcharitmanas Katha and Akhand Ramayana.

Mere Ram Mere Ghar Ayenge, Ayenge Prabhu Ayenge
Prabhu Ke Darshan Ki Aas Hai, Aur Bhilanee Ko Vishavas Hai
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Angana Rasta Roj Buhar Rahi, Khadi Khadi Vo Rah Nihar Rahi
Man Mein Lagan, Bheelani Magan,
Bheelani Ko Bhari Chaiav Hai Aur Man Mein Prem Ka Bhav Hai
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Na Janu Seva Pooja Ki Reet, Kya Sochenge Mere Man Ke Meet
Sharm Aa Rahi, Ghabara Rahi
Vo Bholi Bhali Nar Hai, Prabhu Ko Bholon Se Pyar Hai
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Chun Chun Layi Khatte Mithe Ber, Ane Main Kyon Karate Ho Prabhu Der
Prabhu Aa Rahe, Muska Rahe,
Prabhu Ke Charano Main Gir Padi Aur Asuan Ki Lagi Jhadi
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Asuan Se Dhoye Prabhu Ji Ke Pair, Chakh Chakh Kar Ke Khila Rahi Thi Ber
Prabhu Kah Rahe, Muska Rahe
Ik Prem Ke Vash Mein Ram Hai, Aur Prem Ka Yah Parinam Hai
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Prabhu Teri Khatir Atak Rahe the Pran, Mukti De Do Mujhako Krpa Nidhan
Lelo Sharan, Apani Charan
Shabari Se Bole Ram Hain, Ja Khula Tere Lie Dham Hai
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

Jo Koi Dhoondhe Prabhu Ko Din Aur Raat, Use Dhoondhate Ik Din Deenanath
Hari Ko Bhajo, Sumiran Karo,
‘binnoo’ Yah Nishchay Jaan Lo, Tum Prabhu Ko Apana Man Lo
Mere Ram Mere Ghar Ayenge...

BhajanShri Ram BhajanBy BhaktiBharat


If you love this article please like, share or comment!

* If you are feeling any data correction, please share your views on our contact us page.
** Please write your any type of feedback or suggestion(s) on our contact us page. Whatever you think, (+) or (-) doesn't metter!

गुरु मेरी पूजा, गुरु गोबिंद, गुरु मेरा पारब्रह्म!

गुरु मेरी पूजा गुरु गोबिंद, गुरु मेरा पारब्रह्म, गुरु भगवंत, गुरु मेरा देव अलख अभेव...

ऐसे मेरे मन में विराजिये!

ऐसे मेरे मन में विराजिये, कि मै भूल जाऊं काम धाम, गाऊं बस तेरा नाम...

जैसे तुम सीता के राम...

जैसे तुम सीता के राम, जैसे लक्ष्मण के सम्मान, जैसे हनुमत के भगवान...

अमृत बेला गया आलसी सो रहा बन आभागा !

बेला अमृत गया, आलसी सो रहा, बन आभागा, साथी सारे जगे, तू न जागा...

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...

मेंरो मन लग्यो बरसाने में, जहाँ विराजे राधा रानी, मन हट्यो दुनियाँदारी से, मन हट्यो दुनियाँदारी से...

हे रोम रोम मे बसने वाले राम!

हे रोम रोम मे बसने वाले राम, जगत के स्वामी, हे अन्तर्यामी, मे तुझ से क्या मांगूं।

जिसकी लागी रे लगन भगवान में..!

जिसकी लागी रे लगन भगवान में, उसका दिया रे जलेगा तूफान में।

भजमन राम चरण सुखदाई।

भज मन राम चरण सुखदाई॥ जिहि चरननसे निकसी सुरसरि संकर जटा समाई...

जय हो शिव भोला भंडारी!

जय हो शिव भोला भंडारी लीला अपरंपार तुम्हारी, लेके नाम, तेरा नाम, तेरे धाम आ गए,

तेरी मुरली की मैं हूँ गुलाम...

तेरी मुरली की मैं हूँ गुलाम, मेरे अलबेले श्याम। अलबेले श्याम मेरे मतवाले श्याम॥

^
top