Download Bhakti Bharat APP
Download APP Now - Hanuman Chalisa - Om Jai Jagdish Hare Aarti - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel -

कभी-कभी भगवान को भी भक्तो - भजन (Kabhi Kabhi Bhagwan Ko Bhi Bhakto Se Kam Pade)


कभी-कभी भगवान को भी भक्तो - भजन
प्रभु केवट की नाव चढ़े
कभी कभी भगवान को भी भक्तो से काम पड़े ।
जाना था गंगा पार प्रभु केवट की नाव चढ़े ॥
अवध छोड़ प्रभु वन को धाये,
सिया-राम लखन गंगा तट आये ।
केवट मन ही मन हर्षाये,
घर बैठे प्रभु दर्शन पाए ।
हाथ जोड़ कर प्रभु के आगे केवट मगन खड़े ।
जाना था गंगा पार प्रभु केवट की नाव चड़े ॥

प्रभु बोले तुम नाव चलाओ,
पार हमे केवट पहुचाओ ।
केवट बोला सुनो हमारी,
चरण धुल की माया भारी ।
मैं गरीब नैया है मेरी नारी ना होए पड़े ।
जाना था गंगा पार प्रभु केवट की नाव चड़े ॥

चली नाव गंगा की धारा,
सिया राम लखन को पार उतारा ।
प्रभु देने लगे नाव चढाई,
केवट कहे नहीं रघुराई ।
पार किया मैंने तुमको,
अब मोहे पार करो ।
जाना था गंगा पार प्रभु केवट की नाव चढ़े ॥

केवट दौड़ के जल भर ले आया,
चरण धोय चरणामृत पाया ।
वेद ग्रन्थ जिन के गुण गाये,
केवट उनको नाव चढ़ाए ।
बरसे फूल गगन से ऐसे,
भक्त के भाग्य जगे।
जाना था गंगा पार प्रभु केवट की नाव चढ़े ॥

Kabhi Kabhi Bhagwan Ko Bhi Bhakto Se Kam Pade in English

Prabhu Kevat Ki Naav Chadhe, Kabhi Kabhi Bhagwan Ko Bhi Bhakto Se Kaam Pade ।
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanMata Sita BhajanRam Sita Vivah BhajanShri Vishnu BhajanKevat BhajanAnup Jalota Bhajan

अन्य प्रसिद्ध कभी-कभी भगवान को भी भक्तो - भजन वीडियो

Sarla Dahiya, Neeraj Dahiya Goswami

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार - भजन

राम नाम सोहि जानिये, जो रमता सकल जहान, घट घट में जो रम रहा, उसको राम पहचान, तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार..

तुम उठो सिया सिंगार करो, शिव धनुष राम ने तोड़ा है - भजन

तुम उठो सिया सिंगार करो, शिव धनुष राम ने तोड़ा है, शिव धनुष राम ने तोड़ा है, सीता से नाता जोड़ा है, तुम उठो सिया सिंगार करों,
शिव धनुष राम ने तोड़ा है ॥

जिस दिल में आपकी याद रहे - भजन

कनक भवन दरवाजे पड़े रहो, जहाँ सियारामजी विराजे पड़े रहो, सुघर सोपान सो द्वार सुहावे

राम भजा सो जीता जग में - भजन

राम भजा सो जीता जग में, राम भजा सो जीता रे। ​हृदय शुद्ध नही कीन्हों मूरख..

परिश्रम करे कोई कितना भी लेकिन - भजन

परिश्रम करे कोई कितना भी लेकिन, कृपा के बिना काम चलता नहीं है । निराशा निशा नष्ट होती ना तब तक,

कुमार मैने देखे, सुंदर सखी दो कुमार - भजन

कुमार मैने देखे, सुंदर सखी दो कुमार। हाथों में फूलों का दौना भी सोहे, सुंदर गले में सोहे हार, कुमार मैने देखे...

एक दिन बोले प्रभु रामचंद्र - भजन

एक दिन बोले प्रभु रामचंद्र, मैं मन की बात बताता हूँ, तुम लेटे रहो हनुमान यहाँ, मैं तेरे चरण दबाता हूँ ॥

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP