ऐसा प्यार बहा दे मैया: भजन (Aisa Pyar Baha De Maiya)


ऐसा प्यार बहा दे मैया: भजन

या देवी सर्वभूतेषु,
दया-रूपेण संस्थिता ।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै,
नमस्तस्यै नमो नमः ॥
दुर्गा दुर्गति दूर कर,
मंगल कर सब काज ।
मन मंदिर उज्वल करो,
कृपा करके आज ॥

ऐसा प्यार बहा दे मैया,
चरणों से लग जाऊ मैं ।
सब अंधकार मिटा दे मैया,
दरस तेरा कर पाऊं मैं ॥

जग मैं आकर जग को मैया,
अब तक न मैं पहचान सका ।
क्यों आया हूँ कहाँ है जाना,
यह भी ना मै जान सका ।
तू है अगम अगोचर मैया,
कहो कैसे लख पाऊं मैं ॥
ऐसा प्यार बहा दे मैया..॥

कर कृपा जगदम्बे भवानी,
मैं बालक नादान हूँ ।
नहीं आराधन जप तप जानूं,
मैं अवगुण की खान हूँ ।
दे ऐसा वरदान हे मैया,
सुमिरन तेरा गाऊ मैं ॥
ऐसा प्यार बहा दे मैया..॥

मै बालक तू माया मेरी,
निष् दिन तेरी ओट है ।
तेरी कृपा से ही मिटेगी,
भीतर जो भी खोट है ।
शरण लगा लो मुझ को मईया,
तुझपे बलि बलि जाऊ मैं ॥

ऐसा प्यार बहा दे मैया,
चरणों से लग जाऊ मैं ।
सब अंधकार मिटा दे मैया,
दरस तेरा कर पाऊं मैं ॥

Aisa Pyar Baha De Maiya in English

Ya Devi Aarva-Bhuteshu, Daya-Roopen Sansthita। Namastasye Namastasye Namastasye Namo Namah॥
यह भी जानें

Bhajan Maa Durga BhajanMata BhajanNavratri BhajanMaa Sherawali BhajanDurga Puja BhajanJagran BhajanMata Ki Chauki BhajanShukravar BhajanFriday BhajanAshtami BhajanGupt Navratri Bhajan

अन्य प्रसिद्ध ऐसा प्यार बहा दे मैया: भजन वीडियो

Kavita Paudwal

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्याम सम्भालों मुझे: भजन

आया हूँ मैं दरबार तुम्हारे, सारे जग से हार, श्याम सम्भालो मुझे..

माँ मैं खड़ा द्वारे पे पल पल: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

तेरे नाम का करम है ये सारा: भजन

तेरे नाम का करम है ये सारा, भक्तो पे छाया है सुरूर शेरावालिये, शेरावाली मैहरवाली..

कन्हैया दौडा आएगा: भजन

जब मन मेरा घबराए, कोई राह नज़र ना आये, ये हाथ पकड़ कर मेरा, कन्हैया दौडा आएगा..

जब जब मन मेरा घबराए: भजन

जब मन मेरा घबराए, कोई राह नज़र ना आये, ये हाथ पकड़ कर मेरा..

बड़ा है दयालु भोले नाथ डमरू वाला:

बड़ा है दयालु भोले नाथ डमरू वाला, जिनके गले में विषधर काला, नीलकंठ वाला...

मंदिर

Download BhaktiBharat App Go To Top