वीरो के भी शिरोमणि, हनुमान जब चले: भजन (Veeron Ke Shiromani, Hanuman Jab Chale)


वीरो के भी शिरोमणि, हनुमान जब चले: भजन

सुग्रीव बोले वानरों तत्काल तुम जाओ
श्री जानकी मैया का पता मिलके लगाओ

अरे होकर निराश तूम जो मेरे पास आओगे
ये सुनलो कान खोल के सब मारे जाओगे
ये हुकुम सुनके चल पड़ी सुग्रीव की पल्टन
सब खोज डाले एक एक जंगल पहाड़ वन

माता को खोज नहीं पायें जब यो बेचारे
माँ अंजनी के लाल को सब मिलके पुकारे
हे वीर वर हनुमान अब शंकट से छुडाओ
हम सब शरण हैं आपकी अब लाज बचाओ
उठो हे महावीर, उठो हे महावीर नहीं देर लगाओ
श्री जानकी मैया का पता जाके लगाओ

ये सुनके गरज कर
अरे ये सुनके गरज कर उठे
जब वीर वर हनुमान
थर्रा गयी जमी,
कांप उठा आसमान

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले - x3

वीरो के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
श्री राम जी का करते हुए
ध्यान जब चले
और रावण का तोड़ने वो
अभिमान जब चले

अरे! धर कर विराट रूप
हे धर कर विराट रूप
बन तूफ़ान जब चले
लंका दहाड़े हुए हनुमान जब चले
बलवान जब चले
लंका दहाड़े हुए हनुमान जब चले
बलवान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले

माता को खोजने चले जब
अंजनी कुमार
सब वानरों के दल में
मची जय-जय कार

मारी छलांग और समुन्द्र को हुए पार
आकाश डोल उठा
अरे आकाश डोल उठा
और हिल गया संसार
विकराल गदा हाथ में वो तान जब चले
बलवान जब चले
विकराल गदा हाथ में वो तान जब चले
बलवान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले - x2

लंका में पहुँच के दिए वाटिका उजाड़
अक्षय कुमार को दिए धरती पे वो पछाड़
आया जो सामने दिए कक्कड़ी के जैसे फाड़
दुश्मन के घर में अपना
हे दुश्मन के घर में अपना
झंडा दिए वो गाड़
करते हुए फिर युद्ध घमाशान जब चले
हनुमान जब चले
करते हुए फिर युद्ध घमशान जब चले
हनुमान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले - x2

ये हाल देख भागे सभी जान छोड़ कर
रावण को बताने लगे वो हाथ जोड़ कर
एक कपि ने रख दिए
बगिया के सारे पेड़ तोड़कर
मारा है चंबू माली को
अजी मारा है चंबू माली को
गर्दन मरोड़ कर
लंका का मिटाने को वो निशान जब चले
बलवान जब चले
लंका का मिटाने को वो निशान जब चले
बलवान जब चले

हाँ हे! वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले - x2

श्री राम के भगत ने
वहाँ ऐसा किया कमाल
लंका को फूँके डाले
अंजनी के लाल
आँखे मिलाये बजरंगी से
शर्मो किसकी है मजाल
दुश्मन को चबा डाले
अरे दुश्मन को चबा डाले
वो बनके महाकाल
लंका को बनाकर के
वो शमशान जब चले
बलवान जब चले
लंका को बनाकर के
वो शमशान जब चले
बलवान जब चले

हे! वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले - x2

लंका दहाड़ते हुए
हनुमान जब चले
बलवान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले

वीरों के भी शिरोमणि
बलवान जब चले
हनुमान जब चले

Veeron Ke Shiromani, Hanuman Jab Chale in English

Veeron Ke Bhi Shiromani Balvaan Jab Chale Hanuman Jab Chale
यह भी जानें

BhajanHanuman BhajanBalaji BhajanBajrangbali BhajanHanuman Janmotsav BhajanHanuman Jyanti BhajanMangalwar BhajanTuesday BhajanHanuman Path BhajanSundar Kand Path BhajanLakhbir Singh BhajanLakkha Bhajan


अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

भजन: ऐसे मेरे मन में विराजिये!

ऐसे मेरे मन में विराजिये, कि मै भूल जाऊं काम धाम, गाऊं बस तेरा नाम...

भजन: आजा.. नंद के दुलारे हो..हो..

आजा.. नंद के दुलारे हो..हो.., रोवे अकेली मीरा..आ.., आजा.. नंद के दुलारे हो..हो.. - विधि देशवाल

धन जोबन और काया नगर की..

धन जोबन और काया नगर की, कोई मत करो रे मरोर॥ - विधि देशवाल

भजन: जय राधा माधव, जय कुन्ज बिहारी!

जय राधा माधव, जय कुन्ज बिहारी, जय गोपी जन बल्लभ, जय गिरधर हरी...

भोग भजन: जीमो जीमो साँवरिया थे

उमा लहरी द्वारा श्री कृष्ण भजन - जीमो जीमो साँवरिया थे, आओ भोग लगाओ जी, बाँसुरिया की तान सुनाता..

भजन: घुमा दें मोरछड़ी

हीरा मोत्या जड़ी जड़ी, संकट काटे खड़ी खड़ी, मेरे सर पे बाबा, घुमा दे मोरछड़ी..

हरी सिर धरे मुकुट खेले होरी: होली भजन

हरी सिर धरे मुकुट खेले होरी, कहाँ से आयो कुंवर कन्हैया, कहाँ से आई राधा गोरी..

🔝