भगवन लौट अयोध्या आए.. (Bhagwan Laut Ayodhya Aaye)


भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।
भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

वो बागन-बागन आए,
और सूखे बाग हरियाए
वो बागन-बागन आए,
और सूखे बाग हरियाए

मालिन पैरन परि-परि जाए
भगवन लौट अयोध्या आए ।
मालिन पैरन परि-परि जाए
भगवन लौट अयोध्या आए ।

भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

वो तालन-तालन आए,
और सूखे ताल भ रिआए ।
वो तालन-तालन आए,
और सूखे ताल भ रिआए ।

धोविन पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए ।
धोविन पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

वो कुअटन-कुअटन आए,
और सूखे कुंआ भारियाए ।
वो कुअटन-कुअटन आए,
और सूखे कुंआ भारियाए ।

शक्किन पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए ।
शक्किन पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

वो महलन-महलन आए,
और खंडर महल चिनियाए ।
वो महलन-महलन आए,
और खंडर महल चिनियाए ।

रानी पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए।
रानी पैरन परि-परि जाए,
भगवन लौट अयोध्या आए।

भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।
भगवन चौदह बरस वन वास,
भगवन लौट अयोध्या आए ।

Bhagwan Laut Ayodhya Aaye in English

Bhagwan Chaudah Baras Van Vaas, Bhagwan Laut Ayodhya Aae
यह भी जानें

BhajanShri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanMata Sita BhajanRam Sita Vivah BhajanHari Om Sharan Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भजन: बजरंगबली मेरी नाव चली

बजरंगबली मेरी नाव चली, करुना कर पार लगा देना। हे महावीरा हर लो पीरा..

भजन: हे दुःख भन्जन, मारुती नंदन!

हे दुःख भन्जन, मारुती नंदन, सुन लो मेरी पुकार। पवनसुत विनती बारम्बार॥ अष्ट सिद्धि, नव निद्दी के दाता...

भजन: जय राधा माधव, जय कुन्ज बिहारी!

जय राधा माधव, जय कुन्ज बिहारी, जय गोपी जन बल्लभ, जय गिरधर हरी...

मैं तो बांके की बांकी बन गई

मैं तो बांके की बांकी बन गई, और बांका बन गया मेरा, इस बांके का सब कुछ बांका...

भजन: कृष्ण जिनका नाम है

कृष्ण जिनका नाम है, गोकुल जिनका धाम है, ऐसे श्री भगवान को...

भजन: भगतो को दर्शन दे गयी रे

भगतो को दर्शन दे गयी रे, एक छोटी सी कन्या, छोटी सी कन्या, एक छोटी सी कन्या॥

भजन: शीश गंग अर्धंग पार्वती

शीश गंग अर्धंग पार्वती सदा विराजत कैलासी। नंदी भृंगी नृत्य करत हैं, धरत ध्यान सुर सुखरासी॥

🔝