मुकुन्द माधव गोविन्द बोल - भजन (Mukund Madhav Govind Bol Bhajan)


मुकुन्द माधव गोविन्द बोल - भजन

मुकुन्द माधव गोविन्द बोल ।
केशव माधव हरि हरि बोल ॥

राम राम बोल, राम राम बोल ।
शिव शिव बोल, शिव शिव बोल ॥

नारायण बोल, नारायण बोल ।
केशव माधव हरि हरि बबोल ॥

मुकुन्द माधव गोविन्द बोल ।
केशव माधव हरि हरि बोल ॥

Mukund Madhav Govind Bol Bhajan in English

Mukund Madhav Govind Bol । Keshav Madhav Hari Hari Bol
यह भी जानें

BhajanShiv BhajanShri Vishnu BhajanShri Ram BhajanShri Krishna BhajanBhagwan Shiv BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanHari Om Sharan Bhajan

अन्य प्रसिद्ध मुकुन्द माधव गोविन्द बोल - भजन वीडियो

- Hita Ambrish

Mukund Madhav Govind Bol - Anup Jalota

- Devi Chitralekhaji


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

ना मन हूँ ना बुद्धि ना चित अहंकार: भजन

ना मन हूँ, ना बुद्धि, ना चित अहंकार, ना जिव्या नयन नासिका, करण द्वार..

शिव पूजा में मन लीन रहे मेरा: भजन

शिव पूजा में मन लीन रहे मेरा मस्तक हो और द्वार तेरा, मिट जाए जन्मों की तृष्णा मिले भोले शंकर प्यार तेरा।

तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार: भजन

तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे, बलिहार संवारे जू । तेरी मंद-मंद मुस्कनिया पे..

सबसे ऊंची प्रेम सगाई: भजन

सबसे ऊंची प्रेम सगाई । दुर्योधन के मेवा त्याग्यो, साग विदुर घर खाई..

भजन: क्षमा करो तुम मेरे प्रभुजी!

क्षमा करो तुम मेरे प्रभुजी, अब तक के सारे अपराध। धो डालो तन की चादर को...

भजन: पूछ रही राधा बताओ गिरधारी

पूछ रही राधा बताओ गिरधारी, मैं लगु प्यारी या बंसी है प्यारी । गोकुल में छुप छुप के माखन चुरायो, ग्वाल वाल संग मिल बाँट के खायो...

भजन: ओ सांवरे हमको तेरा सहारा है

ओ सांवरे हमको तेरा सहारा है, तेरी रहमतो से चलता, तेरी रहमतो से चलता मेरा गुजारा है..

🔝