मैं तो बांके की बांकी बन गई (Main Toh Banke Ki Banki Ban Gayi)


मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा,
मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा
इस बांके का सब कुछ बांका,
इस बांके का सब कुछ बांका,
मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा ॥

बांके है नन्द बाबा और यशुमति,
बांकी घडी जमने है बिहारी,
बांके कन्हैया के बांके है भ्रात,
लड़ाके बड़े हल मूसल धारी...
बांकी मिली दुलहन जगवंदन,
और बांके गोपाल के बांके पुजारी,
भक्तन दर्शन देन के कारण,
झांके झरोखा में बांके बिहारी,
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई...॥

रसिया की छलिया की,
सजना की सईया की,
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई...॥

बांकी पागचंद्रिका तापर,
और बांका तुर्रा ररक रहा है,
गरसिरपेच माल और बांकी,
बांके की पटकी चटक अहा है...
बांके नैन सेन सर बांके,
बेन बिनोद महा है,
बांके की बांकी झांकी कर,
बाकी रहयो कहा है,
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई..॥

रसिया की छलिया की,
सजना की सईया की,
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई..॥

ये टेड़े सो प्रसन्न,
टेडी बातन सो अति प्रसन,
टेड़े टेड़े लक्षण अनेक कान कारे के...
हम सो टेंडाई भूल मत करियो कोई,
हम है उपासी एक टेडी टांग वाले के
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई..॥

रसिया की छलिया की,
सजना की सईया की,
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई..॥

टेड़े टिपारे कटारे किरीट की,
मांग की पाग की धारि की जय जय,
कुंडल जाये कपोलन पे,
मुस्कानहु धीर प्रहारी की जय जय..
राजेश्वरी दिन रात रटो,
यही मोहन की बनवारी की जय जय,
प्रेम ते बोलो जी बोलत डोलो,
बोलो श्री बांके बिहारी की जय जय
॥ मैं तो बांके की बांकी बन गई..॥

मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा,
मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा
इस बांके का सब कुछ बांका,
इस बांके का सब कुछ बांका,
मैं तो बांके की बांकी बन गई,
और बांका बन गया मेरा ॥

Main Toh Banke Ki Banki Ban Gayi in English

Main to Banke Ki Banki Ban Gayi, Aur Banka Ban Gaya Mera | Is Banke Ka Sab Kuchh Banka
यह भी जानें

BhajanShri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal BhajanMridul Shastri BhajanISKCON Bhajan


अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

* यदि आपको इस पेज में सुधार की जरूरत महसूस हो रही है, तो कृपया अपने विचारों को हमें शेयर जरूर करें: यहाँ शेयर करें
** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर शेयर करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ शेयर करें

भजन: ना जाने कौन से गुण पर, दयानिधि रीझ जाते हैं!

ना जाने कौन से गुण पर, दयानिधि रीझ जाते हैं। यही सद् ग्रंथ कहते हैं, यही हरि भक्त गाते हैं...

भजन: रघुपति राघव राजाराम

रघुपति राघव राजाराम, पतित पावन सीताराम ॥ सुंदर विग्रह मेघश्याम, गंगा तुलसी शालग्राम...

भजन: बिनती सुनिए नाथ हमारी..

बिनती सुनिए नाथ हमारी, हृदयष्वर हरी हृदय बिहारी, हृदयष्वर हरी हृदय बिहारी, मोर मुकुट पीतांबर धारी..

सुनो सुनो, एक कहानी सुनो!

सुनो सुनो एक कहानी सुनो, ना राजा की ना रानी की...

होता है सारे विश्व का, कल्याण यज्ञ से।

होता है सारे विश्व का, कल्याण यज्ञ से। जल्दी प्रसन्न होते हैं, भगवान् यज्ञ से..

भजन: हे भोले शंकर पधारो

हे भोले शंकर पधारो हे भोले शम्भू पधारो, बैठे छिप के कहाँ जटा धारी पधारो...

हरि नाम नहीं तो जीना क्या...

हरि नाम नहीं तो जीना क्या, अमृत है हरि नाम जगत में...

🔝