Download Bhakti Bharat APP

माँ सरस्वती! मुझको नवल उत्थान दो - भजन (Bhajan: Mujhko Naval Utthan Do, Maa Saraswati Vardan Do)


माँ सरस्वती! मुझको नवल उत्थान दो - भजन

मुझको नवल उत्थान दो ।
माँ सरस्वती! वरदान दो ॥
माँ शारदे! हंसासिनी,
वागीश! वीणावादिनी । ..x2
मुझको अगम स्वर-ज्ञान दो । ..x2

माँ सरस्वती! वरदान दो ॥
मुझको नवल उत्थान दो।

निष्काम हो मनोकामना,
मेरी सफल हो साधना । ..x2
नव गति, नई लय तान दो । ..x2

माँ सरस्वती! वरदान दो ।
मुझको नवल उत्थान दो ॥

हो सत्य जीवन-सारथी,
तेरी करूँ नित आरती । ..x2
समृद्धि, सुख, सम्मान दो । ..x2

माँ सरस्वती! वरदान दो ।
मुझको नवल उत्थान दो ॥

मन, बुद्धि, हृदय पवित्र हो,
मेरा महान चरित्र हो । ..x2
विद्या, विनय, बल दान दो । ..x2
माँ सरस्वती! वरदान दो ॥

सौ वर्ष तक जीते रहें,
सुख-अमिय हम पीते रहें । ..x2
निज चरण में सुस्थान दो । ..x2

माँ सरस्वती! वरदान दो ।
मुझको नवल उत्थान दो ॥

यह विश्व ही परिवार हो,
सबके लिए सम प्यार हो । ..x2
आदेश लक्ष्य महान दो । ..x2
माँ सरस्वती! वरदान दो ॥

मुझको नवल उत्थान दो ।
माँ सरस्वती! वरदान दो ॥

माँ सरस्वती वंदना | माँ सरस्वती आरती | सरस्वती चालीसा

Bhajan: Mujhko Naval Utthan Do, Maa Saraswati Vardan Do in English

Mujhko Naval Utthaan Do । Maa Saraswati! Vardaan Do ॥ Maa Sharde! Hansasini
यह भी जानें

Bhajan Maa Saraswati BhajanSchool BhajanCollege BhajanSaraswati Shishu Mandir BhajanVasant Panchami BhajanBasant Panchami BhajanSaraswati Puja BhajanSaraswati Jayanti Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

अमृत की बरसे बदरीया - भजन

अमृत की बरसे बदरीया, बाबा की दुअरिया, अमृत की बरसें बदरीया, बाबा की दुअरिया ॥

मैया सदा मुझ पर, किरपा की नजर रखना: भजन

मैया सदा मुझ पर, किरपा की नजर रखना, मैं दास तुम्हारा हूँ, इतनी तो खबर रखना, मईया सदा मुझ पर, किरपा की नजर रखना, नजर रखना नजर रखना, नजर रखना नजर रखना, मुझ पर रखना नजर रखना, मईया सदा मुझ पर, किरपा की नजर रखना ॥

मेरी मैया जी कर दो नज़र: भजन

मेरी मैया जी कर दो नज़र, ज़िन्दगी मेरी जाए संवर, मेरी मईया जी कर दो नज़र ॥

तेरे पावन माँ नवरात्रों में, ज्योत तेरी जगाए हुए हैं: भजन

तेरे पावन माँ नवरात्रों में, ज्योत तेरी जगाए हुए हैं, जबसे लागी माँ तुम्हारी, सारी दुनिया भुलाये हुए हैं, तेरे पावन मां नवरात्रों में, ज्योत तेरी जगाए हुए हैं ॥

परिवार मेरा मैया, करता है तेरी भक्ति: भजन

परिवार मेरा मैया, करता है तेरी भक्ति, भक्ति से सदा मिलती, तेरे भक्तों को माँ शक्ति ॥

श्रीमन नारायण नाम संकीर्तन

श्रीमन नारायण नारायण हरी हरी, तेरी लीला सबसे न्यारी न्यारी हरी हरी..

मैं काशी हूँ - भजन

कंकर कंकर मेरा शंकर, मैं लहर-लहर अविनाशी हूँ मैं काशी हूँ मैं…मैं काशी हूँ…!

Hanuman Chalisa - Aditya Hridaya Stotra -
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App