राम कहने से तर जाएगा: भजन (Bhajan: Ram Kahne Se Tar Jayega Par Bhav Se Utar Jayega)


राम कहने से तर जाएगा: भजन

राम कहने से तर जाएगा,
पार भव से उतर जायेगा।

उस गली होगी चर्चा तेरी,
जिस गली से गुजर जायेगा।
॥ राम कहने से तर जाएगा...॥

बड़ी मुश्किल से नर तन मिला,
कल ना जाने किधर जाएगा।
॥ राम कहने से तर जाएगा...॥

अपना दामन तो फैला ज़रा,
कोई दाता भर जाएगा।
॥ राम कहने से तर जाएगा...॥

सब कहेंगे कहानी तेरी,
जब इधर से उधर जाएगा।
॥ राम कहने से तर जाएगा...॥

याद आएगी चेतन तेरी,
काम ऐसा जो कर जाएगा।
॥ राम कहने से तर जाएगा...॥

राम कहने से तर जाएगा,
पार भव से उत्तर जायेगा।

Bhajan: Ram Kahne Se Tar Jayega Par Bhav Se Utar Jayega in English

Ram Kahane Se Tar Jaega, Paar Bhav Se Uttar Jayega। Us Gali Hogi Charcha Teri...
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Navmi BhajanSundarkand BhajanRamayan Path BhajanVijayadashami BhajanPrem Bhushan Ji Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

श्याम सम्भालों मुझे: भजन

आया हूँ मैं दरबार तुम्हारे, सारे जग से हार, श्याम सम्भालो मुझे..

माँ मैं खड़ा द्वारे पे पल पल: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो: भजन

मैया कृपा करदो झोली मेरी भरदो, तेरी दया का हम सदा गुणगान करेंगे, तेरा ध्यान करेंगे...

तेरे नाम का करम है ये सारा: भजन

तेरे नाम का करम है ये सारा, भक्तो पे छाया है सुरूर शेरावालिये, शेरावाली मैहरवाली..

कन्हैया दौडा आएगा: भजन

जब मन मेरा घबराए, कोई राह नज़र ना आये, ये हाथ पकड़ कर मेरा, कन्हैया दौडा आएगा..

जब जब मन मेरा घबराए: भजन

जब मन मेरा घबराए, कोई राह नज़र ना आये, ये हाथ पकड़ कर मेरा..

बड़ा है दयालु भोले नाथ डमरू वाला:

बड़ा है दयालु भोले नाथ डमरू वाला, जिनके गले में विषधर काला, नीलकंठ वाला...

मंदिर

Download BhaktiBharat App Go To Top