Hanuman Chalisa
Download APP Now - Hanuman Chalisa - Ram Bhajan - Follow Bhakti Bharat WhatsApp Channel -

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ: कामना (Na Dhan Dharti Na Dhan Chahata Hun: Kamana)


न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ: कामना
न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥
रहे नाम तेरा वो चाहूं मैं रसना ।
सुने यश तेरा वह श्रवण चाहता हूँ ॥

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥

विमल ज्ञान धारा से मस्तिष्क उर्बर ।
व श्रद्धा से भरपूर मन चाहता हूँ ॥

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥

करे दिव्य दर्शन तेरा जो निरन्तर ।
वही भाग्यशाली नयन चाहता हूँ ॥

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥

नहीं चाहता है मुझे स्वर्ग छवि की ।
मैं केवल तुम्हें प्राण धन ! चाहता हूँ ॥

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥

प्रकाश आत्मा में अलौकिक तेरा है ।
परम ज्योति प्रत्येक क्षण चाहता हूँ ॥

न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ ।
कृपा का तेरी एक कण चाहता हूँ ॥

Na Dhan Dharti Na Dhan Chahata Hun: Kamana in English

Na Main Dhan Dharti Na Dhan Chahata Hun । Krpa Ka Teri Ek Kan Chahata Hun | Rahe Naam Tera Vo Chahun Main Rasna
यह भी जानें

Bhajan Arya Samaj BhajanVed BhajanVedic BhajanHawan BhajanYagya BhajanMotivational BhajanMorning BhajanDainik BhajanDaily BhajanPrarthana BhajanVandana BhajanJain BhajanJainism BhajanSchool BhajanInspirational BhajanShanti Dham BhajanGayatri BhajanGayatri Paiwar BhajanKamana BhajanYachana BhajanDevi Chitralekhaji Bhajan

अन्य प्रसिद्ध न मैं धान धरती न धन चाहता हूँ: कामना वीडियो

- Shri Gaurav Krishna Goswamiji

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

Whatsapp Channelभक्ति-भारत वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें »
इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

जाऊँ तोरे चरण कमल पर वारी - भजन

जाऊँ तोरे चरण कमल पर वारी, हेगोपाल गोिवंद मुरारी, शरणागत हूँ द्वार तिहारे

ॐ मंगलम ओमकार मंगलम - शिव धुन

ॐ मंगलम ओमकार मंगलम, ॐ मंगलम ओमकार मंगलम, सोम मंगलम सारधार मंगलम

जगन्नाथ भगवान जी का भजन

चारों धाम में सबसे बड़ा है ,जगन्नाथ धाम, जगन्नाथ भगवान की, महिमा अपरम्पार, भक्तों को दर्शन देते,करते उनके काम।

हनुमत तुम्हें प्रणाम करूं: भजन

हनुमत तुम्हें प्रणाम करूं, श्री राम जानकी के हनुमत तुम्हें प्रणाम करूं, तुम सबके काज संवारे हो,पल में दुष्टों को मारे हो, पवन पुत्र अंजनी के लाला, मैं भक्त तेरा तू है रखवाला, भय आए तो हे हनुमंता मैं तो तेरा ध्यान धरु, श्री राम जानकी के हनुमत तुम्हें प्रणाम करूं ॥

कृष्ण जिनका नाम है - भजन

कृष्ण जिनका नाम है, गोकुल जिनका धाम है, ऐसे श्री भगवान को...

बजरंगी बलि ने ऐसा बजाया डंका:भजन

बजरंगी बलि ने ऐसा बजाया डंका, जला डाली सारी सोने की लंका, धु धु जलती लंका, उछल कूदते हनुमान,
जय श्री राम जय हुनमान ॥

तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार - भजन

राम नाम सोहि जानिये, जो रमता सकल जहान, घट घट में जो रम रहा, उसको राम पहचान, तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार..

Hanuman Chalisa -
Ram Bhajan -
×
Bhakti Bharat APP