जन्माष्टमी भजन: यगोविंदा आला रे आला.. (Govinda Aala Re Aala)


जन्माष्टमी भजन: यगोविंदा आला रे आला..

गोविंदा आला रे आला
ज़रा मटकी सम्भाल बृजबाला
अरे एक दो तीन चार संग पाँच छः सात हैं ग्वाला ॥
गोविंदा आला रे...॥

आई माखन के चोरों की सेना
ज़रा बच के सम्भल के जी रहना
बड़ी नटखट है फ़ौज, कहीं आई जो मौज
नहीं बचने का कोई भी ताला, ताला ॥
गोविंदा आला रे...॥

हो कैसी निकली है झूम के ये टोली
आज खेलेगी दूध से ये होली
भीगे कितना भी अंग, ठंडी हो ना उमंग
पड़े इनसे किसी का न पाला, पाला ॥
गोविंदा आला रे...॥
गोविंदा आला रे...

Movie: ब्लफ़ मास्टर
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: मो.रफ़ी

Govinda Aala Re Aala in English

Govida Aala Re Ala, Zara Mataki Sambhal Brijabaala, Are Ek Do Aur Tin Char Sag Panch Chhe Sat Hain
यह भी जानें

Bhajan Shri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal BhajanPhalguna BhajanIskcon BhajanShri Shyam BhajanDahi Handi Bhajan

अन्य प्रसिद्ध जन्माष्टमी भजन: यगोविंदा आला रे आला.. वीडियो

Aditya Narayan

Dhvani Arora

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

हे दुःख भन्जन, मारुती नंदन: भजन

हे दुःख भन्जन, मारुती नंदन, सुन लो मेरी पुकार । पवनसुत विनती बारम्बार...

भजन: राम का प्यारा है, सिया दुलारा है, हनुमान

राम का प्यारा है, सिया दुलारा है, संकट हारा है, हनुमान II

लाल लंगोटे वाले वीर हनुमान है: भजन

लाल लंगोटे वाले वीर हनुमान है, हनुमान गढ़ी में बैठे, अयोध्या की शान है..

वीरो के भी शिरोमणि, हनुमान जब चले: भजन

वीरो के भी शिरोमणि, बलवान जब चले, हनुमान जब चले

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना: भजन

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना, कहते लोग इसे राम का दिवाना..

इक काँधे पे लखन विराजे दूजे पर रघुवीर: भजन

इक काँधे पे लखन विराजे दूजे पर रघुवीर, वीर बलि महावीर हरी तुमने भक्तों की पीर ॥

मेरे राम इतनी किरपा करना, बीते जीवन तेरे चरणों में: भजन

मेरे राम मेरे घर आ जाना, शबरी के बेर तुम खा जाना, मुझे दर्शन अपने दिखा जाना, मुझे मुक्ति मिले अपने कर्मो से, मेरे राम इतनी कीरपा करना, बीते जीवन तेरे चरणों में ॥

मंदिर

Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App