Download Bhakti Bharat APP

हे राम, हे राम - भजन (Hey Ram, Hey Ram !)


हे राम, हे राम - भजन

हे राम, हे राम
जग में साचो तेरो नाम
हे राम, हे राम

तू ही माता, तू ही पिता है
तू ही माता, तू ही पिता है
तू ही तो है, राधा का श्याम
हे राम, हे राम

तू अंतर्यामी, सबका स्वामी
तू अंतर्यामी, सबका स्वामी
तेरे चरणों में, चारो धाम
हे राम, हे राम

तू ही बिगड़े, तू ही सवारे
तू ही बिगड़े, तू ही सवारे
इस जग के, सारे काम
हे राम, हे राम

तू ही जगदाता, विश्वविधता
तू ही जगदाता, विश्वविधता
तू ही सुबह, तू ही शाम
हे राम, हे राम

हे राम, हे राम
जग में साचो तेरो नाम
हे राम, हे राम

Hey Ram, Hey Ram ! in English

Hey Raam, Hey Raam, Jag Mein Sacho Tero Naam, Hey Raam, Hey Raam, Tu Hee Mata, Tu Hee Pita Hai
यह भी जानें

Bhajan Shri Ram BhajanShri Raghuvar BhajanRam Sita Vivah BhajanJagjit Singh Bhajan

अन्य प्रसिद्ध हे राम, हे राम - भजन वीडियो

हे राम, हे राम - Maanya Arora

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites
* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें

राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया: भजन

ऐसा सुंदर स्वभाव कहाँ पाया, राघवजी तुम्हें ऐसा किसने बनाया । पर नारी पर दृष्टि न ड़ाली..

भजन: मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी..

मैं तो संग जाऊं बनवास, स्वामी ना करना निराश, पग पग संग जाऊं जाऊं बनवास...

राम ही पार लगावेंगे: भजन

अजी मैं तो राम ही राम भजूँ री मेरे राम, राम ही पार लगावेंगे..

भजन: ओ मईया तैने का ठानी मन में

ओ मईया तैने का ठानी मन में, राम-सिया भेज दये री बन में, दीवानी तैने का ठानी मन में...

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी: भजन

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी, इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन..

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए: भजन

माँ की लाल रे चुनरिया, देखो लहर लहर लहराए, माँ की नाक की नथनिया, दमदम दमदम दमकी जाए, माँ की लाल रे चुनरियाँ, देखो लहर लहर लहराए ॥

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई: भजन

दुःख की बदली, जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई, वो आ गई वो आ गई, वो आ गई मेरी माँ, दुख की बदली,
जब जब मुझ पे छा गई, सिंह सवारी करके, मैया आ गई ॥

Hanuman Chalisa
Subscribe BhaktiBharat YouTube Channel
Download BhaktiBharat App