close this ads

भजन: वो काला एक बांसुरी वाला..


वो काला एक बांसुरी वाला,
सुध बिसरा गया मोरी रे।
माखन चोर वो नंदकिशोर जो,
कर गयो मन की चोरी रे॥

पनघट पे मोरी बईया मरोड़ी,
मैं बोली तो मेरी मटकी फोड़ी।
पईया परूँ करूँ बीनता मैं पर,
माने ना वो एक मोरे रे॥

छुप गयो फिर एक तान सुना के,
कहाँ गयो एक बाण चला के।
गोकुल ढूंढा मैंने मथुरा ढूंढी,
कोई नगरिया ना छोड़ी रे॥

Read Also
» दिल्ली मे कहाँ मनाएँ श्री कृष्ण जन्माष्टमी।
» दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध श्री कृष्ण मंदिर।
» जानें दिल्ली मे ISKCON मंदिर कहाँ-कहाँ हैं?
» दिल्ली के प्रमुख श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर।
» ब्रजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर!
» आरती: श्री बाल कृष्ण जी | भोग आरती: श्रीकृष्ण जी | बधाई भजन: लल्ला की सुन के मै आयी!

Hindi Version in English

Woh Kala Eik Bansuri Wala,
Suddh Bisara Gaya Mori Re।
Makhan Chor Woh Nandkishore Jo,
Kar Gayo Man Ki Chori Re॥

Panghat Pe Mori Baiyan Marodi,
Mein Boli To Meri Mataki Phodi।
Paiyan Pado Karoon Vinati Main Par,
Mane Na Woh Ek Mori Re॥

Chup Gayo Ek Taan Suna Ke,
Kahan Gayoo Ek Ban Chalaa Ke।
Gokul Dhunda Maine Mathura Dhundi,
Koi Nagariya Na Chodi Re॥

BhajanShri Krishna Bhajan


If you love this article please like, share or comment!

* If you are feeling any data correction, please share your views on our contact us page.
** Please write your any type of feedback or suggestion(s) on our contact us page. Whatever you think, (+) or (-) doesn't metter!

आए हैं प्रभु श्री राम...

आए हैं प्रभु श्री राम, भरत फूले ना समाते हैं। तन पुलकित मुख बोल ना आए...

मेरे बांके बिहारी लाल...

मेरे बांके बिहारी लाल, तू इतना ना करिओ श्रृंगार, नज़र तोहे लग जाएगी।...

दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार!

दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार, यहाँ पे भी जो हारा, कहाँ जाऊंगा सरकार॥

जो करते रहोगे भजन धीरे धीरे।

जो करते रहोगे भजन धीरे धीरे। तो मिल जायेगा वो सजन धीरे धीरे।

उठ जाग मुसाफिर भोर भई...

उठ जाग मुसाफिर भोर भई, अब रैन कहाँ जो सोवत है।...

हे दयामय आप ही संसार के आधार हो।

हे दयामय आप ही संसार के आधार हो। आप ही करतार हो हम सबके पालनहार हो॥

हमारे साथ श्री रघुनाथ तो...

हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता। शरण में रख दिया जब माथ तो किस बात की चिंता।

मुझे तूने मालिक, बहुत कुछ दिया है।

मुझे तूने मालिक, बहुत कुछ दिया है। तेरा शुक्रिया है, तेरा शुक्रिया है।

ओम अनेक बार बोल!

ओम अनेक बार बोल, प्रेम के प्रयोगी। है यही अनादि नाद, निर्विकल्प निर्विवाद।...

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं। मेरे नयनो के तारे है। सारे जग के रखवाले है...

Latest Mandir

^
top